सफाई के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति कर रहा प्रशासन

0
86


चकलवंशी : शारदा नहर आसीवन बांच की पिछले दस वर्षों से सफाई ही नहीं कराई गई, जिसके कारण नहर में झाड़ियां ऊगी हुई है और किसानों को सिंचाई के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। बिकास खण्ड मियांगज के अन्तर्गत सैकड़ों हेक्टेयर भूमि की सिंचाई के लिए किसान शारदा नहर आसीवन ब्रांच के सहारे अपने खेतों में फसलों की बुवाई करते हैं, लेकिन उन्हें इन फसलों की सिंचाई के लिए कभी भी पर्याप्त मात्रा में पानी नहीं मिल रहा है, क्योंकि पिछले दस सालों से विभाग द्वारा सफाई के नाम पर खेल ही किया गया है नहर की कहीं-कहीं सफाई सिर्फ खानापूर्ति के लिए करा दी जाती है और यह दर्शा दिया जाता है कि सफाई करा दी गई |

आसपास के लोगों का कहना है कि दस सालों से इस ब्रांच की सफाई नहीं कराई गई है और बिना सफाई कराये ही पैसा निकाल कर बन्दर बाट कर लिया जाता है और किसानों को परेशानी का सामना करना पड़ता है क्योंकि जितने क्यूसेक पानी की आवश्यकता होती है सफाई न होने से उतना पानी नहर में नहीं आता है और किसानों को निजी संसाधनो पर निर्भर रहना पड़ता है किसानों में सुरेश, रमेश, राम बहादुर, भरोसे, सुल्तान, महबूब, कमलेश सहित दर्जनों किसानों ने बताया कि रामपुर कला गांव के पास एक किलोमीटर तक सफाई कराई गई उसके आगे पीछे सब छोड़ दिया गया क्या इसी तरह सफाई कराई जाती है।

रिपोर्ट – अशोक दुबे

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY