वृद्ध महिला की हत्या का हुआ खुलासा, हत्यारोपी हुए गिरफ्तार

0
85


सोनभद्र( ब्यूरो) सिंगरौली में विगत दिनों चोरों द्वारा की गयी एक वृद्ध महिला के हत्या का पुलिस ने खुलासा किया तथा दोनों हत्यारोपी गिरफ्तार कर लिए गए हैं । सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मोरवा थाना क्षेत्र निवासी श्रीमती देव कुमारी यादव पत्नी स्वर्गीय श्री तिलकधारी यादव उम्र 62 वर्ष निवासी देवरी धाम महरौली वार्ड क्रमांक 10 थाना मोरवा जिला सिंगरौली मध्य प्रदेश जो अपने पुत्र से अलग देवरिडाड में घर बनाकर अकेली रहती थी एवं मेहनत मजदूरी कर अपना जीविकोपार्जन करती थी | दिनांक 14.06.17 की रात करीब 12:00 से 1:00 वजे के करीब बगल के खाली पड़े टीन शेड मकान की अडवेस्टर सीट खोल कर चोरी कर रहे पड़ोसी आरोपी सतल वैगा पुत्र रामविचारे वैगा उम्र 32 वर्ष निवासी देवरीडाड वार्ड क्रमांक 10 थाना मोरवा की आहट पाकर जग गई और बाहर निकल कर देखा तो चांदनी रात होने से पड़ोसी आरोपी को पहचान गई और नाम लेकर हल्ला करने लगी जिस पर आरोपी आक्रोशित होकर अपने आगन से हल्ला कर रही देवकुमारी के पास पहुंचा एवं अपनी पहचान छुपाने की गरज से मृतिका देव कुमारी यादव का गला पकड़ कर कमरे के अंदर घसीट कर ले गया एवं पटक दिया और गला दबाकर नृसंश हत्या कर दी इतना ही नहीं मृतिका के गले में बंधी चाबी निकाल कर उसके बगल में बंद कमरे का ताला खोलकर अंदर पालीथीन बैग में रखा 18 सौ रुपए सहित कुछ कागजात को लेकर पीछे बाउंड्री वाल लांघते हुए गायब हो गया।

मृतिका की हत्या तब ज्ञात हुई जब दिनांक 16.06.17 को 70 वर्ष की वृद्धि मोहरी देवी खैरवार उसके घर के पास से जंगल जाते समय बीड़ी पीने की गरज से मृतिका के घर के अंदर गई तो देखी थी मृतका खून में लथपथ जमीन पर पड़ी है जिसकी सूचना तत्काल मृतिका के पुत्र अंजनी यादव को दी | अंजनी यादव द्वारा तत्काल घटना की जानकारी थाना मोरवा में दी गई, जिस पर मर्म क्रमांक 43/17 धारा 174 जाप्ता फौजदारी का पंजीवद्ध कर जांच की गई | पोस्टमार्टम रिपोर्ट एवं अन्य तत्कालीन उपलब्ध साक्ष्य के साथ साथ घटना स्थल निरीक्षण से अज्ञात आरोपी के विरुद्ध धारा 302, 749 का अपराध पंजीबद्ध किया गया | गंभीर प्रकृत की घटना होने से पुलिस अधीक्षक सिंगरौली श्री रुडोल्फ अल्वारेस, एसडीओपी सिंगरौली श्री राजेश सिंह परिहार, एफ0एस0एल डॉक्टर श्री महावीर एवं फिंगर प्रिन्ट एक्सपर्ट श्रीमती माण्डवी पांडे ने खोजी कुत्तों के साथ मौके का मुआयना किया एवं जांच कर रहे मोरवा थाना प्रभारी राजेंद्र मिश्रा को आवश्यक दिशा निर्देश दिए तथा ज्ञात आरोपी के विरुद्ध ₹10000 का इनाम भी घोषित किया गया।

उक्त नृशंस हत्या का पर्दाफास कर आरोपी को सलाखों के पीछे पहुंचाना पुलिस के लिए चुनौती हो गई थी | इस दिशा मे पुलिस अधीक्षक सिंगरौली द्वारा एसडीओपी सिंगरौली के दिशा निर्देशन में थाना प्रभारी मोरवा राजेंद्र मिश्रा के नेतृत्व मे टीम गठित की जाकर पर्दाफाश करने का दायित्व सौंपा गया। जिसे बखूबी निर्वहन करते हुए थाना प्रभारी मरवा ने दिनांक 27.06.2017 को नदनी जोडरी की पहाड़ियों के बीच अपने साढू भाई के घर में शरण लिए आरोपी सतल बैगा तथा राम बिचारे बैगा उम्र 32 वर्ष निवासी देवरीडाड को घेर कर पकड़ लिया गया जिससे पूछताछ पर उसने अपना जुर्म कबूल करते हुए बताया कि घटना दिनांक 14.06.17 की देर रात चोरी करते समय मृतिका द्वारा पहचान लिए जाने के कारण उसने श्रीमती देवकुमारी यादव की गला दबाकर हत्या कर दी थी तथा उसके घर में पालीथीन बैग में रखे पैसा कागज वगैरह ले गया था आरोपी की निशानदेही पर उसके घर की तलाशी लिये जाने पर मृतिका देव कुमारी यादव का वोटर ID आधार कार्ड बैंक की जमा पर्ची की रसीदें यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया शाखा मोरवा की पासबुक एवं लेडीज पर्स में ₹400 के साथ ही वक्त घटना आरोपी द्वारा लिये गए सफेद गमछा जिसमें खून के निशान मौजूद है आरोपी के घर से बरामद कर लिया गया।

उल्लेखनीय है कि आरोपी पूर्व से घोषित निगरानी बदमाश है जिसके विरुद्ध लगभग डेढ़ दर्जन अपराधिक कार्यवाही के मामले दर्ज हैं साथ ही घटना के बाद से इसका अचानक गायब हो जाना ही पुलिस के लिए संदेश का कारण बना यद्यपि आरोपी सतल वैगा कुछ महीने पहले ही 3 वर्ष की सजा काटकर जेल से रिहा होकर आया था।
इस अंधी हत्या की गुत्थी सुलझाने में थाना प्रभारी मोरवा राजेंद्र मिश्रा एवं उनकी टीम में शामिल उपनिरीक्षक सरनाम सिंह परिवीक्षाधीन उपनिरीक्षक अरविंद ठाकुर प्रधान आरक्षक प्रमोद तिवारी जयराम गुप्ता आरक्षक राहुल सिंह, विजय तिवारी रवि गुर्जर, वालस्टर गुर्जर, गिरिराज सिंह, राकेश यादव आदि की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

रिपोर्ट – ज़मीर अंसारी

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here