गंगा दशहरा के अवसर पर ग्रामीणों ने की गंगा जी की पूजा

मऊरानीपुर/झाँसी (ब्यूरो)- गंगा दशहरा के मौके पर परहित दर्शन अभियान के संस्थापक की अगुवाई मे नदी का पूजन किया गया। इस मौके पर स्वामी जी ने कहा कि जल संरक्षण व जल संचयन के लिए जरूरी है कि नदी, तालाव, व पोखरों का सरंक्षण किया जाये। ये हमारे प्राचीन जल श्रोत है। जिसके द्वारा जल संचयन तो होता ही है साथ ही सामाजिक सरोकारो से भी नदी और तालाव जुडें है।

परिहित दर्शन अभियान के अन्तर्गत जल एवं पर्यावरण संरक्षण के लिए काम किया जा रहा है। हनुमतं लाल सरकार के पीठाधिश्वर महंन्त सोमेश्वरानन्द बृहमचारी द्वारा समय समय पर कार्यक्रम आयोजित कर नदी और तालावों का पूजन किया जाता है। साथ वृक्षारोपण व जागरूकता कार्यक्रम आयोजित कराये जाते है। रविवार को गंगा दशहरा के मौके पर आश्रम के पास सुखनई नदी का पूजन किया गया।

इस मौके पर महन्त धनश्याम मुनि, मनोहर मिश्र, राजेन्द्र पाण्डें, मनीष सेठिया, अमित चैबे, कृष्णकान्त दीक्षित, सोनू मिश्रा, लखन लाल मिश्रा, दयाशंकर, रामप्रसाद, आयुष श्रीवास, संतोष लेखपाल, धनाराम लेखपाल, तथा युवा शक्ति के कार्यकर्ता मौजूद रहे।

रिपोर्ट- राजेश यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here