गंगा में डूबने से एक की मौत

0
90

बांगरमऊ/उन्नाव(ब्यूरो)- कोतवाली क्षेत्र स्थित नानामऊ गंगा तट पर दशहरा नहाने गये दो युवक अचानक गंगा की तेज धार में पहुँच गये और दोनों गंगा की धारा में डूबने लगे तो एक को मौजूद गोताखोरों ने बचा लिया जबकि दूसरे की मौत हो गई। जिसका अभी तक कोई पता नही चल सका है।

बताते चले आज गंगा दशहरा मेले के अवसर पर भारी संख्या में श्रद्धालु पवित्र गंगा में आस्था की डुबकी लगाते है। इस दसहरा मेले के अवसर पर अपने घरवालो के साथ आये ग्राम लतीफपुर निवासी युवक नीरज पुत्र रामदयाल व संतराम पुत्र नन्हेलाल दोनों युवक गंगा स्नान करने हेतु गंगा की धारा में घुसे ही थे कि तभी उनका पैर फिसला और दोनों युवक अचानक तेज धार के बहाव में पड़कर डूबने लगे। मौके पर उपस्थित श्रद्धालुओं की मदद से नीरज को तेज बहाव से नाव के सहारे गोता खोरों नें निकाल लिया किन्तु संतराम (20) पुत्र नन्हेलाल तेज बहाव में डूब गया । जिसे स्थानीय गोता खोर मल्लाहों की मदद से काफी खोजबीन की गयी किन्तु उसका कही पता नही चल सका है ।

मौके पर पहुचे ग्राम प्रधान रामगोपाल की सुचना पर पहुची 100 नंबर पुलिस भी असहाय दिखी। गंगातट पर पहुचे क्षेत्राधिकारी रामअर्ज व कोतवाली प्रभारी धीरेन्द्र प्रताप सिंह ने परिजनों को ढाढ़स बधाते हुए कहा जाल मगाकर व गोताखोरों की मदद से मृतक का शव ढूढ़ने में हर सम्भव प्रयाश किया जायेगा। पुलिस द्वारा स्थानीय गोताखोर बुलाकर घण्टो की कड़ी मसक्कत के बाद भी शव बरामद नहीं किया जा सका है जिसकी तलाश अभी जारी है । वही मृतक की माँ नन्ही देवी का रो रोकर बुरा हाल है। परिजनों ने बताया कि मृतक युवक के पिता का देहांत वर्षो पहले हो चुका है। मृतक युवक अपनी माँ के साथ खेती व मजदूरी से परिवार चलाता था। युवक के डूबने से माँ अब अकेली पड़ गयी है । यह सोचकर ही वह बदहवास होकर रोती रही ।

रिपोर्ट- रघुनाथ प्रसाद

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here