पूर्व सैनिकों ने किया एलान, लौटायेंगे अपने मेडल

0
190

पूर्व सैनिकों ने सरकार की ऊपर आरोप लगाया है कि सरकार हमारी बात सुन नहीं रही है और इतना ही नहीं उन्होंने यह भी कहा है कि सरकार को भूत पूर्व सैनिकों कि अब कोई भी चिंता नहीं है I ऐसे में पूर्व सैनिकों ने एलान किया है कि हम आने वाले ९-१० नवम्बर को अपने सभी मेडल भारत सरकार को वापस कर देंगे I पूर्व सैनिकों के आंदोलन के महासचिव ग्रुप कैप्टन वीके गांधी ने कहा है कि सैनिकों के द्वारा मेडल वापसी का क्रायक्रम हमनें सर्वसम्मति से लिया है I आपको बता दें कि पिछले १४५ दिनों से लगातार दिल्ली के जंतर-मंतर पर पूर्व सैनिक धरने पर बैठे हुए है, हालाँकि सरकार ने पूर्व सैनिकों कि मांग को स्वीकार किया था और बीते ५ सितम्बर को पूर्व सैनिकों के द्वारा मांगी जा रही वन रैंक वन पेंशन को असली जाम पहनने का वादा भी किया था I लेकिन उसके बाद भी पूर्व सैनिकों ने अपना आंदोलन जारी रखा था I मिस्टर गांधी ने कहा है कि सरकार हमें OROP देने के लिए इच्छुक है लेकिन उसमें बहुत साड़ी विषंगतियां है और वह जैसी उसकी परिभाषा है वैसी नहीं है और इसी के चलते इन्ही खामियों के चलते ही पूरे देश के पूर्व सैनिकों ने सर्वसम्मति से यह तय किया है कि वह आगामी ९-१० दिसंबर को अपने-अपने मेडल सरकार को वापस कर देंगे I इस तरह से होगी मेडल वापसी- पूर्व सैनिकों के महासचिव ने बताया कि हम आगामी ९-१० दिसंबर को अपने-अपने जिले के मजिस्ट्रेट के सामने अपने मेडल उन्हें सौंप देंगे और उनसे इस बात कि निवेदन करेंगे कि वह हमारे मेडल्स को देश के प्रधानमंत्री या फिर राष्ट्रपति तक पहुंचा दें I आपको बता दें कि बीते ५ सितम्बर को सरकार के एलान के बाद भी पूर्व सैनिकों ने अपना आंदोलन जारी रखा है और उन्होंने कहा है कि सरकार ने जिस तरह से इस मांग को पूरी करने का आश्वासन दिया है वह वन रैंक वन पेंशन नहीं बल्कि वन रैंक फाइव पेंशन योजना है, पूर्व सैनिकों के द्वारा मेडल वापसी का एलान करने के बाद यह देखना सबसे अधिक दिलचस्प होगा कि सरकार इसके ऊपर क्या कदम उठाती है या फिर लेखकों और फिल्मकारों कि ही तरह से इस मामले पर भी खामोश ही रहती है I

NO COMMENTS