एक शनिवार जिससे दहला प्रतापगढ़

0
174

दीवानगंज/प्रतापगढ़(ब्यूरो)- धई थाने के दीवानगंज बाजार मे मदरसा में जबरन दीवार बनाने के विवाद मे दो पक्षों मे चली गोली लेकिन किसी को गोली नही लगी| घटना की जानकारी मिलते ही मौके पर कंधई फ़ोर्स पहुँच गयी|

१.आसपुर देवसरा के महुली ग्राम सभा में प्रधान पति ने मारी गोली-
प्रधान पति अवैध हथियार के तस्करी में कुछ दिन पहले जेल में बंद था अभी-अभी वह बाहर आया हुआ है| आते ही उसने गांव के ही रमेश कुमार पांडे को जान से मारने की नियत से रात में करीब सारे 9:00 बजे गोली मार दी | किस्मत अच्छी थी कि रमेश कुमार पांडे फायर की आवाज पर नीचे गिर पड़े जिससे गोली उनके ऊपर से गुजर गई और वह बाल बाल बच गए| घटना के समय वहां मौजूद दुकानदारों ने जब दौड़ाया तो प्रधान पति भाग निकला|

२.प्रतापगढ जिले के लीलापुर में जयराज बाबा कुवर सिंह महाविद्यालय में आज दिन सुक्रवार को bsc प्रथम वर्ष का प्रटिकल था| हर्सित पान्डेय निवासी रघुवापुर (bsc ist year) की कहासुनी एक मुस्लिम युवक, निवासी प्रतापगढ सिटी से हो गयी| कुछ देर बाद उसके दोस्त 3 अपाची से आये और ताबडतोड़ फ़ायरिंग करने लगे और निकल गये| जिससे आसपास इलाके मे दहसत का माहौल है| पुलिस ने उपद्रवी के खिलाफ़ कार्यवाही का आश्वासन दिया है| मामला लालगंज कोतवाली क्षेत्र लीला पुर का है|

३.प्रमुख पति ने लूटे 63 हजार रुपये-

कोतवाली क्षेत्र के कंसा पट्टी निवासी रामप्रताप वर्मा शनिवार की शुबह करीब 9:30 बजे घर से बाइक पर सवार होकर जिला सहकारी बैंक शाखा पट्टी में लोन का पैसा जमा करने जा रहा था। इसी बीच गांव के सरकारी ट्यूबेल के पास पहुचते ही पहले से घात लगाकर बैठे चार नकाब पोस बदमासो ने उसे रोककर मारपीट कर पैसा छीनने लगे मार पीट के दौरान दो बदमासो का मुह खुल गया| जिससे वह पहचान में आ गये एक बदमाश का नाम प्रमुख पति मंगरौरा कुलदीप वर्मा व दूसरा स्वामीनाथ वर्मा प्रमुख पति ने तमंचे से फायर करते हुए उसके हजार रुपये छीन कर बरहूपुर की तरफ भाग निकले पीड़ित की तहरीर पर पुलिस मामले की जाँच कर रही है।

एक ही दिन में इतनी घटना प्रतापगढ़ की कानून व्यवस्था पर सवाल खड़ा करता है कि आखिर जिले में प्रशासन क्या कर रहा है और योगी सरकार आने के बाद भी अगर जुर्म नहीं रुक रहे तो क्या बीजेपी को वोट देकर लोग ठगे गए हैं?

रिपोर्ट- सूरज वर्मा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY