वनविभाग के अधिकारियो की मिलीभगत के चलते सैकड़ो बीघे वनविभाग की जमीन पर खुलेआम की जा रही खेती

0
144

उन्नाव(ब्यूरो)– हसनगंज तहसील के ग्राम खपुरा मुस्लिम में 150 बीघे जमीन वनविभाग के नाम से सरकारी अभिलेखों में दर्ज है| जिस पर वन विभाग द्वारा प्रतिवर्ष हजारो की संख्या में पौधरोपण कर हरा भरा बनाने की कवायद करते रहते है, लेकिन जमीनी हकीकत में लगभग 50 बीघा जमीन में मेंडो पर तो वनविभाग के बबूल के पेड़ है लेकिन बीच की सारी भूमि से पेड़ो को जड़ से खत्म कर गेंहू की खेती की जा रही है| जब की वनविभाग से लेकर तहसील अधिकारी अवैध कब्जे जानकर भी असहाय बने हुए है|

वनविभाग की जमीन पर पेड़ न होकर गेंहू की फसल लहलहा रही है ये तो महज नमूना है मलझा , सलेमपुर ,रसूलपुरबकिया ,उंचगांव सहित दर्जनों गाँवो में वनविभाग की सैकड़ो बीघे जमीन पर ग्रामीण कब्जा करके खेती कर रहे है और विभागीय अधिकारी जानते हुए भी बेखबर है| जब की गतवर्ष लाखो पेड़ो का वृक्षारोपण वनविभाग द्वारा कराकर कोरम पूरा किया गया, लेकिन जमीनी हकीकत में हरियाली के नाम पर सरकार के अभियान को अवैध कब्जेदार चुनोती दे रहे है| जिस बात की गवाह कब्जा करके की जारही गेंहू की फसले बनी हुई है| डिप्टी रेंजर आर के सिंह ने इस सम्बन्ध में बताया की अवैध कब्जेदारों के खिलाफ पैमाइस करा कर वनविभाग की जमीन छुड़ाई जायेगी| इसके लिए अनाधिकृत कब्जेदारों को नोटिस दी गई है।

रिपोर्ट- राहुल राठौड़
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here