खुलेआम जलाये जा रहे फसल अवशेष

0
54

उन्नाव(ब्यूरो)- जिले में फसल अवशेषों को बेधड़क जलाया जा रहा हैं।सम्बंधित अधिकारियों को पूरी जानकारी होने के बाद भी वह अंजान बने हुए हैं।

सफीपुर, पुरवा, मौरावां, बरीखेड़ा, परियर, मरौंदा, भदेवना, पंडित खेड़ा, गंगा कटरी आदि क्षेत्रो में फसल अवशेषों को जलाया जा रहा है। जिसके जलने से मृदा ताप में बृद्धि हो रही है इससे मृदा के भौतिक रसायनिक एवं जैविक पर विपरीत प्रभाव पड़ रहा हैं। अवशेषों के जलने पर पादप अवशेषों में लाभदायक मित्र कीट जलकर मर जाते हैं। जिसके कारण वातावरण पर भी विपरीत असर पड़ रहा हैं। राष्ट्रीय हरित अधिकरण द्वारा फसल अवशेष जलाना दंडनीय अपराध घोषित किया हैं। इसके बावजूद भी राजस्व विभाग के अधिकारी सब जानते हुए भी अंजान बने हुए हैं।इस संबंध में उपजिलाधिकारी मेघा रूपम ने बताया इसकी जांच करा कर कार्यवाही की जाएंगी।

रिपोर्ट- रवी मिश्रा

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY