जाम के झाम में फंसे रहे नेता प्रतिपक्ष

बलिया(ब्यूरो)- रेवती बाजार में दुकानदारों के अतिक्रमण के चपेट में गुरुवार की सायं फसे नेता प्रतिपक्ष रामगोविंद चौधरी के काफिले को निकालने में पुलिस को आधा घंटा लगा । दुकानदारों का आरोप है कि इस दौरान पुलिस ने सड़क के किनारे रखे धनंजय केशरी के दाल को नाली में फेक दिया तथा मिष्ठान दुकानदार  राजकुमार को पीटा। दुकानदारों ने इसकी शिकायत पूर्वमंत्री से की लेकिन उनका स्काट आगे बढ गया। इस मामले को लेकर पीड़ित दुकानदारों ने पुलिस के विरोध में अपने दुकानो को बंद कर शुक्रवार के दिन बड़ी बाजार शिवालय पर बैठक कर पुलिसिया कार्यवाही का विरोध किया।

उल्लेखनीय है कि गुरुवार के दिन सायं रोजा इफ्तार पार्टी से निकलने के बाद प्रतिपक्ष के नेता गुदरी बाजार रिंगन राम के घर आयोजित वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होने के लिए गये थे। जब उनका काफिला आगे बढ़ा तो सड़क पर अतिक्रमण के चलते जाम लगी थी। हुटर के प्रयोग के बाद सफलता न मिलने पर पुलिस गाड़ी से नीचे उतरी तथा जाम को हटाने में पुलिस को लगभग बीस मिनट का समय लगा। दुकानदार राजकुमार का आरोप है कि पुलिस ने मारपीट किया तथा धनंजय केशरी का कहना है कि पुलिस ने दाल को नाली में बहा दिया।

थानाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह ने बताया कि मेरे अनुरोध पर बाजार के पनचानबे प्रतिशत दुकानदार स्वयं अतिक्रमण हटा लिए है, लेकिन गुदरी बाजार के राजकुमार अपने आदत से बाज नही आ रहा है। नाली के ऊपर फर्श तोड़वाने के बाद पटरा लगाकर अतिक्रमण कर रहा है।कई बार चेतावनी भी दी जा चुकी है। सवाल यह है कि सड़क के किनारे दुकान समान रखेगे तथा बाहर ग्राहक खड़े होगे तो सड़क जाम होगा। दुकानदार स्वयं गुनाह कर रहे है और हमे गुनाहगार सिद्ध कर रहे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here