अंधेर नगरी चौपट राजा का उत्कृष्ट नमूना प्रस्तुत करता नगर

0
87

बासुकीनाथ/झारखण्ड(ब्यूरो)-अंधेर नगरी चौपट राजा का उत्कृष्ट नमूना प्रस्तुत करता नगर, नगर विकास विभाग द्वारा बना धर्मशाला सह मार्केट कॉन्पलेक्स सब्जी मंडी बासुकीनाथ के समीप बनाया विशाल भवन बासुकीनाथ के विकास को रफ्तार देने के लिए हुआ था, लेकिन नियति को कुछ और ही मंजूर था| आज यह किसी भूत बंगले से कम नहीं नजर आता है| पिछले 10 वर्षों से वीरान पड़ा यह कथित धर्मशाला सह मार्केट कॉन्पलेक्स शराबियों और असामाजिक तत्वों का अड्डा बना हुआ है| इस भवन से महज 5 मीटर की दूरी पर तमाम तरह के दुकान है, लेकिन दुकानदारों को इस मार्केट कॉन्पलेक्स में आज तक दुकान आवंटित नहीं हो पाया है| इस मार्केट कॉन्पलेक्स के संदर्भ में लोगों का कहना है कि बाहरी-भीतरी के राजनीतिक खेल के चलते नगर पंचायत आज तक दुकान आवंटन नीति तैयार नहीं कर पाई है| चाहे यह कॉन्पलेक्स खंडार में क्यों ना बदल जाए, सनद रहे कि इस भवन का शिलान्यास भूतपूर्व मुख्यमंत्री मधुकोड़ा और तत्कालीन नगर विकास मंत्री हरिनारायण राय के हाथों हुआ था|

बासकीनाथ में इन दिनों अतिक्रमण का बाजार गर्म है- अतिक्रमण कारियों ने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के नल को भी नहीं बख्शा| यह मामला बासुकीनाथ के हृदयस्थली कहे जाने वाले नागनाथ चौक का है जहां पर दुकानदारों ने सार्वजनिक नल पर कब्जा जमा लिया है| जिसका परिणाम यहां आने वाले दूरदराज के हजारों श्रद्धालुओं को रोजाना भुगतना पड़ता है| पेयजल की समुचित व्यवस्था रहने के बावजूद भी लोग बोतलबंद पानी खरीद कर पीने को मजबूर हैं| बहुत ऐसे भी लोग हैं जिनके पॉकेट की पहुंच बोतलबंद पानी खरीद कर पीने लायक नहीं है| नलकूप की ऐसी दशा देखकर पूजा करने आए कुछ तीर्थयात्री यहां तक कह जाते हैं कि बोतल बंद पानी बेचने के लिए यहां के दुकानदारों ने सार्वजनिक नल को जबरन कब्जा कर लिया है| गौर फरमाने लायक बात यह है कि पेयजल व स्वच्छता विभाग के कर्मचारी समय-समय पर सार्वजनिक पेयजल स्थलों का निरीक्षण करने के लिए आते हैं| इसके बावजूद भी सार्वजनिक पेयजल के ठिकाने का अतिक्रमण समझ से परे है|

गंदगी जमे हुए पानी और अपनी बदहाली के लिए को सत्ता नगर पंचायत बासुकीनाथ का वार्ड नंबर 7 जो मिर्धा टोला के नाम से लोकप्रिय है| इस वार्ड की दशा को देख कर इंसान क्या भगवान भी शर्मा जाए यहां की दुर्दशा का आलम यह है कि सूखे मौसम में भी यहां पानी जमा रहता है| क्या रहने वाले लोगों की परेशानी वह समय पर जाती है? जब बेमौसम बरसात हो जाए या वर्षा ऋतु दस्तक दे दे इस वार्ड के निवासियों का कहना है कि बड़े अरमान से हम लोगों ने एक नौजवान को वार्ड पार्षद बनाया, लेकिन यह भी सत्ता के नशे में चूर होकर हम लोगों के अरमान पर पानी फेर दिया| सालों भर पानी जमे रहने से वार्ड नंबर 7 तमाम किस्म के मच्छरों का अभयारण्य बन गया है| जिससे कभी भी अज्ञात जानलेवा रोग और महामारी फैलने की संभावना बनी रहती है| विदित हो कि इस मोहल्ले में रहने वाले छोटे छोटे बच्चे अक्सर बुखार का शिकार बने रहते हैं फिर भी सभी बेजुबान बने हुए हैं |

महिलाओं के ऊपर हो रहे अन्याय और प्रताड़ना को कम करने के लिए राज्य सरकार के द्वारा प्रत्येक जिले और प्रखंड में महिला हेल्पलाइन की शुरूआत यह जाने की घोषणा की गई थी, लेकिन जरमुंडी प्रखंड में अभी तक महिला हेल्पलाइन चालू नहीं हो पाया है| इस संबंध में महिला बाल विकास विभाग में कार्यरत सुपरवाइजर श्रीमती मोनू पंडा का कहना था कि इस प्रखंड में महिला हेल्पलाइन की सुविधा नहीं है दुख की बात यह है कि महिला हेल्पलाइन नहीं रहने से महिलाओं की आवाज सार्वजनिक रूप से मुखर होने के बजाय घर के चौखट पर ही दबकर रह जाती है|

बासुकीनाथ के लोगों में सांसद निशिकांत दुबे को लेकर काफी निराशा है| इस मायूसी के पीछे सांसद महोदय का महाशिवरात्रि के उपलक्ष पर बासुकीनाथ की उपेक्षा से जुड़ा हुआ है| गौरतलब है कि बासुकीनाथ मंदिर के ऊपर शिवरात्रि के मौके पर हेलीकॉप्टर के द्वारा पुष्पवर्षा का नहीं होना यहां के लोगों में चर्चा का विषय बना हुआ है| कुछ लोग तो यहां तक कहते हुए देखे जा रहे थे कि निशिकांत दुबे देवघर के सांसद हैं| बासुकीनाथ के नहीं इसीलिए बाबा के मंदिर पर हेलीकॉप्टर से पुष्पवृष्टि नहीं हो पाया| मुद्दे की नजाकत को समझते हुए अन्य राजनीतिक दलों के लोग क्यों पीछे रहते इसीलिए मामले का तेजी से राजनीतिकरण होना शुरू हो गया है|

बासुकीनाथ दुमका मुख्य मार्ग जरमुणडी थाना क्षेत्र के कुरुवा गांव के समीप साइकिल पर जा रहे दो लोगों को एक गाड़ी सामने से ठोकर मारी दी| जिसके चलते साइकिल पर सवार दोनों लोग बुरी तरह से घायल हो गए| दोनों घायलों को जरमुणडी समुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया| साथ ही जरमुणडी थाना पुलिस को खबर की गई सूचना मिलते ही जरमुणडी थाना पुलिस घटना स्थल पर पहुंच चुकी थी| आगे की छानबीन जारी है वहीं धक्का मारने वाला गाड़ी घटनास्थल से कुछ दूरी आगे जाकर सड़क किनारे गाड़ी छोड़कर ड्राइवर खलाशी फरार हो गए|

रिपोर्ट- धनञ्जय सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY