आर्केस्ट्रा में नाच को लेकर बवाल, दरोगा और सिपाही पर हमला

0
199

मऊ (ब्यूरो)- जिले के घोसी कोतवाली क्षेत्र के घोसी नगर स्थित बड़ागांव भरौटी में शनिवार की रात्रि आर्केस्ट्रा में दो गुटों में हुए विवाद में बीच बचाव करने गई पुलिस की जमकर पिटाई कर दी गई। जिसमें एक दरोगा और दो सिपाही बुरी तरह घायल हो गए । जिनका ज़िला मुख्यालय स्थित एक प्राइवेट नर्सिंग होम में ईलाज चल रहा है।प्राप्त जानकारी के अनुसार घोसी नगर के बड़ागांव भरौटी में विजय दशमी के अवसर पर आर्केस्ट्रा का कार्यक्रम चल रहा था कि शनिवार की रात लगभग बारह बजे आर्केस्ट्रा देख रहे युवकों के दो गुटों में किसी बात को लेकर मारपीट शुरू हो गई। जिसकी सूचना किसी ने 100 डायल पुलिस को दी गयी।100 डायल पुलिस पहुंचते ही लोगों ने पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया। जिसमे 100 डायल के पुलिसकर्मी राकेश बुरी तरह घायल हो गए। बीच बचा के 100 डायल के पुलिसकर्मियों ने इसकी सूचना घोसी कोतवाली को दी।

सूचना मिलते ही कस्बा प्रभारी उपनिरीक्षक सविंद्र राय अपने हमराही जगेश्वर सिंह के साथ मोटर साइकिल से मौके पर पहुंचे।कस्बा प्रभारी अभी कुछ समझ पाते तब तक वहां मौजूद युवाओं के गुट ने ईंट पत्थर व बांस से हमला कर दिया जिससे दोनों लोग भी बुरी तरह घायल हो गए।कुछ समाजसेवियों के बीच बचाव के बाद इन घायलों को जिला मुख्यालय स्थित एक निजी अस्पताल में ईलाज के लिये भेजा गया । जहां घायलों का उपचार चल रहा है।लेकिन घटना के इतने घण्टों बीत जाने के बाद भी अभी तक आला अधिकारियों की अकर्मण्यता के कारण मौके से ना तो किसी की गिरफ्तारी हुई और ना ही इस संबंध में कोई मुकदमा दर्ज हुआ।

पुलिस विभाग के आला अधिकारियों की चुप्पी की वजह से जहां अराजक तत्वों को बल मिल रहा है तो वहीं कोतवाली के पुलिसकर्मी काफी मायूस है।अब सवाल उठता है कि पुलिस के इन आला अधिकारियों की चुप्पी के पीछे कहीं राजनीति दबाव तो हावी नहीं हो रही है।नगर में पुलिस पार्टी पर हमले को लेकर नगर के समाजसेवी और मीडियाकर्मी भी सहमे हुए हैं कि जब पुलिस ही सुरक्षित नहीं है तो आम आदमी की क्या सुरक्षा होगी।

रिपोर्ट:- ऋषि राय

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here