पंडित दीनदयाल जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में भव्य मेला/प्रदर्शनी आयोजित

बलिया(ब्यूरो)- पंडित दीन दयाल की जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में गड़वार ब्लॉक परिसर में रविवार को भव्य विकास खंड स्तरीय मेले का आयोजन हुआ। इस मेला/प्रदर्शनी का मुख्य उद्देश्य सरकार की लाभकारी योजनाओं को समाज के अंतिम पायदान तक के व्यक्ति तक पहुंचाना है।

तीन दिवसीय मेले का शुभारम्भ प्रदेश के भूमि एवं जल संसाधन मंत्री उपेंद्र तिवारी व जिलाधिकारी ने फीता काटकर व दीप प्रज्ज्वलित कर किया। उन्होंने कहा कि पंडित दीनदयाल जी की विचारधारा थी कि हर गरीब के घर रोशनी हो और खुशहाली आए। इसी लक्ष्य की पूर्ति के उद्देश्य से यह कार्यक्रम आयोजित हो रहा है ताकि सभी को योजनाओं की जानकारी हो और पात्र लाभ ले सकें। यही सरकार की भी मंशा है। इसमें अधिकारियों के साथ जनप्रतिनिधि का भी सहयोग अपेक्षित है। ऐसा तभी सम्भव होगा जब ग्राम स्तर के लेखपाल, सचिव समेत दर्जन भर कर्मचारी ईमानदारी के साथ दायित्व निर्वहन का संकल्प लेंगे। शौचालय निर्माण की प्रोत्साहन राशि को समयान्तर्गत लाभार्थी के खाते में भेज देने का निर्देश दिया। सचेत किया इसमें विलम्ब पर बड़ी कार्रवाई हो सकती है।

मंत्री ने कहा कि थाना, तहसील, ब्लॉक, अस्पताल, बिजली, पानी की व्यवस्था बेहतर हो जाए तो आम जनमानस को कोई दिक्कत नही होगी। भींटा, पोखरा, खलिहान, पंचायत भवन आदि जैसी सार्वजनिक जमीन पर कब्जा नही हो। अतिक्रमणकारियों से सख्ती से निपटने को कहा।

जिलाधिकारी सुरेंद्र विक्रम ने कहा कि पंडित दीनदयाल जी ने समग्र विकास की परिकल्पना की थी। गरीब का उत्थान ही उनका लक्ष्य था। उनके इस सपने को पूरा करने के लिए हम सबको प्रयासरत होना होगा। इसके लिए प्रधान, बीडीसी, सचिव, लेखपाल, सफाईकर्मी, आशा, एएनएम, रोजगार सेवक आदि मिलकर गांव के बेहतर विकास का संकल्प लें और गरीबों तक योजनाओं का लाभ पहंचाएं। कहा कि राशन कार्ड, पट्टा, आवास देने में ईमानदारी बरतें तो उन गरीबों की दुवा भी मिलेगी।

सीडीओ संतोष कुमार ने पंडित दीन दयाल जी के जीवन परिचय व उनके उद्देश्यों को बताते हुए उनके बताये रास्तों पर चलने की जरूरत बताई। कार्यक्रम में सूचना अधिकारी/सिटी मजिस्ट्रेट मनोज पाण्डेय, बीडीओ जेपी यादव समेत ब्लॉक कर्मियों का विशेष सहयोग रहा। इस अवसर पर प्रमुख रामेश्वर चौधरी, राकेश चौबे भोला, उपेंद्र पांडेय सहित सैकड़ों लोग मौजूद रहे।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here