प्रसाद एस फाउंडेशन के तत्वाधान में किया गया निशुल्क चिकित्सा शिविर का आयोजन

0
64

रायबरेली(ब्यूरो)- भारत में लगभग 75 प्रतिशत साक्षरता के बाद भी आज समाज मे वरिष्ठ नागरिकों के बुनियादी सुविधाएं प्रदान करने में कहीं न कहीं हम सभी अब भी लापरवाही बरतते है। जिसका परिणाम है कि बुर्जगों का मार्ग दर्शन नही मिल पाता। बुर्जग ही हमारी धरोहर है।

इस विषय को ध्यान में रखते हुए प्रसाद एसएस फाउंडेशन ने वरिष्ठ नागरिकों के लिए निःशुल्क स्वास्थय शिविर का आयोजन किया। शिविर में वरिष्ठ नागरिको के लिए सोडियम, पोटैशियम की जांच करायी गयी। फाउंडेशन की प्रबंध निदेशक विनिता श्रीवास्तव ने इस प्रकार के जांच के विषय पर प्रकाश डालते हुए कहा कि सोडियम की कमी से प्रायः वरिष्ठ नागरिक को याददास्त में कमी आ जाती है। इस उम्र में कई ऐसे बुजुर्गो को सोडियम की कमी एवं क्र्रिटनीन के बढने से किडनी में दिक्कत आ जाती है। इस कमी को मानसिक असंतुलन में न लें बल्कि इसका इलाज कराएं और उनकी सेवा करें। उन्होने कहा कि मै युवाओं से अपील करना चाहती हूं कि माता-पिता की उम्र जैसे जैसे बढती जाए वैसे वैसे उनके स्वास्थय पर विशेष ध्यान देने की आवाश्यकता है। कई बार बुजुर्गों में सोडियम की कमी के कारण उनके सामान्य व्यवहार में परिवर्तन आ जाता है, इसे दिमागी असंतुलन न समझे बल्कि उनके सोडियम की जांच कराकर उचित ईलाज कराएं। उन्होंने कहा कि संस्था द्वारा कई चरणों में कई कल्याणकारी योजना चलायी जायेगी। पहले चरण में कंबल वितरण दूसरे चरण में लंगर एवं तीसरे चरण में निःशुल्क चिकित्सा शिविर लगायें जायेंगे।

रिपोर्ट- राजेश यादव 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here