राम मंदिर निर्माण को लेकर संकल्प सभा कि आयोजन

0
41

मोरवा/समस्तीपुर (ब्यूरो)- भारत सरकार राम मंदिर निर्माण के लिए अति शीघ्र कानून बनाकर शीघ्र अतिशीघ्र राम मंदिर का निर्माण करें। उक्त बातें कहीं विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद प्राण्डेय ने मोरवा के ऐतिहासिक खुदनेश्वर स्थान प्रांगण में आयोजित विश्व हिंदू परिषद एवं बजरंग दल के धर्म संसद समारोह को संबोधित करते हुए। राम मंदिर निर्माण के लिए राष्ट्रीय जन जागरण के तहत आयोजित धर्म संसद को संबोधित करते हुए अंतरराष्ट्रीय महामंत्री श्री पांडे ने स्पष्ट किया श्री राम मंदिर भारत के और वह हिंदुओं के हृदय के आस्था का सवाल है।राम मंदिर निर्माण के लिए लाखों हिंदुओं ने सैकड़ों वर्षो से कुर्बानियां दी है।

यदि अतिशीघ्र राम मंदिर नहीं निर्माण होगा तो भारत के करोड़ों हिंदुओं के हृदय को महान आघात लगेगा। विहिप के महामंत्री ने कोर्ट पर सवालिया निशान उठाते हुए कहा कि 29 अक्टूबर को कोर्ट का जोड़ा भैया रहा वह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण था। कोर्ट द्वारा यह कहना कि राम मंदिर का मुद्दा हमारे लिए किसी भी प्राथमिकता में नहीं है यह अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है क्योंकि इसके लिए सैकड़ों वर्षो से लाखों हिंदू अपनी कुर्बानी देकर और वह हिंदुओं के आस्था को बचाने का महान संकल्प व्यक्त करते रहे हैं।

जब तक राम मंदिर का निर्माण नहीं हो जाता तब तक भारत के करोड़ों हिंदुओं चैन से नहीं बैठेंगे।धर्म संसद को संबोधित करते हुए अमित कुमार ने कहा कि जो रवैया है उससे राम मंदिर तो क्या किसी भी मंदिर का निर्माण असंभव प्रतीत हो रहा है। धर्म संसद को संबोधित करते हुए अन्य वक्ताओं ने गर्मजोशी से नारा लगाया संसद में कानून बनाओ अयोध्या में मंदिर बनाओ संतो की है पुकार रामलला की जय जय कार। इससे पूर्व आयोजकों द्वारा बहुत बड़ी माला के साथ अंतरराष्ट्रीय महामंत्री का स्वागत किया गया। साथ ही मिथिला की रीति रिवाज के अनुसार चादर माला पहनाकर सम्मानित किया गया। आगत अतिथियों ने वैदिक मंत्रोच्चारण के बीच दीप प्रज्वलित कर समारोह का शुभारंभ किया। इसकी अध्यक्षता विश्व हिंदू परिषद के जिला अध्यक्ष अजय कुमार पांडे ने की।

अंतरराष्ट्रीय महामंत्री श्री मिलिंद पांडे ने प्रेस वार्ता को भी संबोधित करते हुए भारत वासियों के द्वारा अतिशीघ्र राम मंदिर निर्माण का संकल्प व्यक्त किया। धर्म संसद समारोह को डॉक्टर दीप नारायण चौधरी, दीपक कुमार,अजय पांडेय,प्रशांत कुमार, चंदन कुमार,सोनू झा,संजीव कुमार झा,दिनेश भगत,केशव राज, नीतीश कुमार, मोहन दास,जवाहर सिंह,कृष देव झा,आदि दर्जनों वक्ताओं ने संबोधित किया।

रिपोर्ट – आर. कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here