पाल समाज द्वारा एक दिवसीय धरना किया गया

0
62


ऊंचाहार/रायबरेली (ब्यूरो)- ऊंचाहार ब्लाक गेट पर गुरूवार के दिन पाल समाज के लोगों का धनगर बिरादरी के नाम से परिवार रजिस्टर का नकल न देने पर ब्लाक के कर्मचारी व अधिकारियों के खिलाफ एक दिवसीय धरना प्रर्दान किया गया। जिसमे ब्लाक के अधिकारियों को उस सदंर्भ मे िकायती पत्र देकर समस्या का समाधान न देने पर तहसील व जिला मे धरना प्रर्दान करने का चेतावनी दिया है।

ब्लाक के अलग अलग गांवो से आये पाल समाज के लोगों ने ब्लाक गेट पर एक दिवसीय धरना प्रर्दान करने के मांग को लेकर हंगामा काटा है। जिसमे पाल समाज के लोगों का अरोप है कि हम लोगों को अनुसूचित जाति मे सम्मिलित किया गया है। जिसको लेकर निदे पंचायती राज अनिल कुमार दमेले ने बकायदा उसका निर्दे ब्लाक को भेजा है। जिसके तहत पाल समाज के लोगों को अनुसूचित जाति के तहत धनगर बिरादरी के नाम से परिवार रजिस्टर बनना चाहिये लेकिन ब्लाक के वीडीओ व बीडीओ तक अपनी मनमानी पर उतारू होकर अनुसूचित जाति के तहत धनगर बिरादरी का प्रमाण पत्र जारी नही कर रहे है। जिसके विरोध मे धरना प्रर्दान किया जा रहा है। हलाकि बीडीओ को ज्ञापन भी पाल समाज के लोगों ने सौंपा है। जिस मौके पर राधेश्यामपाल, देवनाथ पाल, करूणे पाल, जवाहरलाल पाल, दूधनाथ पाल, राजेन्द्र आदि मौजूद रहे।

यहां से उठा विवाद तो हुआ धरना-

ब्लाक के ग्राम पंचायत अरखा मे तैनात वीडीओ के द्वारा परिवार रजिस्टर पाल समाज के लोगों का अनुसूचित जाति का बनाये जाने का विरोध किया गया तो मामला धीरे धीरे तूल पकडने लगा जिसके बाद भी मामला शांतिप्रिय न होने पर पाल समाज के लोगों को अपने हक्क के मांग के लिये धरना प्रर्दान किया करना पडा है।

ग्रामीणों का एक गंभीर आरोप-

ऊंचाहार ब्लाक के ग्राम पंचायत अरखा के ग्राम पंचायत मे तैनात बीडीओ यानी ग्राम विकास अधिकारी पर ग्रामीणों का अरोप है कि वीडीओ ग्राम पंचायत मे नही आते है जिनके जगह पर उनका पुत्र ही नौकरी करता है जिसके द्वारा ही सरकारी कागजों पर हस्ताक्षर किया जा रहा है जो सरकारी कागजों से खेलवाड करना साफ साफ प्रतीत करता है जिसमे यदि बीडीओ व उसके पुत्र का हस्ताक्षर का जांच उच्चस्तरीय अधिकारियों के द्वारा कर दिया गया तो बीडीओ को फंसना तय है। जिनका आरोप है कि बीडीओ के पुत्र ही ब्लाक के मीटिंग मे बैठने से लेकर सारे सरकारी कागजों मे नियमाविरूद्ध हस्ताक्षर करके सरकारी विभाग के रिकार्डों से खेलवाड किया जा रहा है।

बीडीओ बोले-

बीडीओ रामसागर ने बताया कि प्रकरण मे पाल समाज के लोगों को अनुसूचित जाति के तहत प्रमाणपत्र धनगर बिरादरी का बनाने के लिये समस्त ग्राम पंचायत के वीडीओ को आदेात किया गया है। जहां रही ग्राम पंचायत अरखा के पिता के जगह पुत्र के नौकरी करके सरकारी रिकार्डो मे पुत्र के हस्ताक्षर की बात तो उसकी जांच करवाया जायेगा।

एसडीएम बोले –
एसडीएम मदन कुमार ने बताया कि सरकारी रिकार्ड मे यदि कोई नौकरी पेा के आलावा हस्ताक्षर करता है तो उसके खिलाफ गंभीर व कठोर कार्यवाही करने का प्रविधान है जिसकी जांच करवाने के बाद दोषी मिलने पर बीडीओ, बीडीओ व बीडीओ के पुत्र के खिलाफ एफआईआर करवाया जायेगा।

रिपोर्ट- अनुज मौर्य/सर्वेश

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here