पानी की टंकी बनी शोपीश, घर बैठे तनख्वाह ले रहे है आपरेटर

0
96

औरास/उन्नाव (ब्यूरो)- ग्रामीण पेय जल योजना के अन्तर्गत निर्मित पानी की टंकी शो पीस बनी खड़ी है उनमे तैनात आपरेटरों को सरकार घर बैठे वेतन दे रही है और गाँवो की जनता पानी को तरस रही है। जल आपूर्ति न होने से प्रमुख सचिव जल संसाधन मंत्रालय भारत सरकार से शिकायत की गई है।

ब्लाक औरास के धनइया खेड़ा गाँव के पास ग्रामीण पेय जल योजना के अन्तर्गत लाखो रूपये की लागत से 20 वर्ष पूर्व पानी की टंकी सरकारी मद से बनाई गई थी। जिसमे जल आपूर्ति करने के लिये सोलर पैन भी लगाये गए है। इस टंकी से गागन बछौली दहीवाला सालिक खेड़ा धनइया खेड़ा सहित 20 गांवो में जल आपूर्ति करने का प्रावधान था।जहाँ अधिकारियो की लचर नीती के कारण वर्षो से जल आपूर्ति ठप पड़ी है। जिससे ग्रामीणों को पानी पीने के लाले पड़े हुए है।

टंकी पर तैनात जगदीश चंद्र से जब पूछा गया की जल आपूर्ति क्यों बाधित है जिस पर उन्होंने बताया की सोलर पैनल के तार ख़राब हो गये है। जिससे आपूर्ति बाधित है वही रामपुर गढ़ौवा टंकी पर तैनात ऑपरेटर सुर्जन सिंह यहाँ रुकते ही नही कभी कभी आते है।तीन हजार रूपये पर रखा गया प्राइवेट चौकीदार लाला के हवाले टंकी सोलर पैनल अधिकारी व कर्मचारियों की घोर लापरवाही को देखते हुए मैनी भावा खेड़ा निवासी हरिओम सिंह ने जल संसाधन मंत्रालय भारत सरकार से लेकर प्रमुख सचिव जल निगम व जिला अधिकारी से शिकायत की यहाँ के गाँवो में पेय जल आपूर्ति ठप पड़ी है । धन की बर्बादी रोकने के लिए जाँच कराकर दोषी अधिकारी व कर्मचारियों पर कार्यवाही की जाय।

रिपोर्ट- विपिन मौर्या

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here