अतिक्रमण व ओभरफ्लो पानी से धान की रोपाई बर्बाद

0
66

चन्दौली(ब्यूरो)- कमालपुर बरहनी विकास खण्ड के बसन्तपुर माइनर में अतिक्रमण व घोसवा चिल्हारी नहर के ओभरफ्लो पानी के चलते शनिवार की सुबह मुड़कपुआ भैसउर गांव के सीवान में पचासों एकड़ धान की रोपाई जलमग्न हो गयी। इससे किसानों के सामने बड़ी समस्या उत्पन्न हो गयी। किसानों ने चेताया कि समस्या का समाधान जल्द से जल्द नही हुआ तो धरना प्रदर्शन किया जाएगा।

धीना नहर से बसन्तपुर माइनर में पानी आता है। बीते कई वर्षों से बसन्तपुर माइनर में साफ सफाई न होने के चलते ओभरफ्लो पानी से किसानों के फसल डूब जाते थे। इसके लिए किसानों ने जनप्रतिनिधियों व उच्चाधिकारियों के पास समस्या से निदान के लिए गुहार लगाया। डीएम हेमन्त कुमार ने बसन्तपुर माइनर में फावड़ा से खुद खुदाई कर शुभारंभ करवाया था। जबकि माइनर का आधा अधूरा साफ सफाई समस्या होने से किसानो की समस्या खत्म नही हो पायी।

आरोप है कि भैसा कला निवासी लक्ष्मण यादव आवागमन के लिए बसन्तपुर माइनर में बॉस बल्ली व पुआल से अतिक्रमण किये हुए है। इससे माइनर का पानी व घोसवा चिल्हारी नहर का पानी ओभरफ्लो होने से शनिवार की सुबह मुड़कपुआ भैसउर गांव के सीवान में पचासों एकड़ धान की रोपाई डूबकर बर्बाद हो गए। इसमें राकेश राय का दो एकड़, उत्तम दुबे का पांच एकड़, मकसूदन दुबे का पांच एकड़, घनश्याम दुबे का दो एकड़, विमल दुबे का तीन एकड़, राजेश दुबे का पांच एकड़, शिवानंद का दो एकड़, मुसाफिर उपाध्याय का पांच एकड़ धान की रोपाई शामिल है।

किसानों के धान की रोपाई जलमग्न हो जाने से चिंता सताने लगी है। इस सम्बंध में अवर अभियंता सिचाई विभाग राजेश कुमार सिंह ने कहा कि धान की रोपाई डूबने की जानकारी नही है। यदि किसानों की धान की रोपाई डूब चुकी है तो तत्काल समस्या का समाधान किया जाएगा।

रिपोर्ट-कुलदीप यादव

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY