पद्मश्री से सम्‍मानित पंडवानी गायक पद्मश्री पुनाराम निषाद का आज निधन

0
277

punaram nishaad

रायपुर- छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह राज्य ने प्रसिद्ध पंडवानी गायक, पद्मश्री अलंकरण से सम्मानित श्री पुनाराम निषाद के निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया है। डॉ. सिंह ने आज यहां जारी शोक-संदेश में कहा है कि श्री निषाद के निधन से छत्तीसगढ़ में महाभारत कथा गायन की लोकप्रिय विधा ‘पंडवानी’ के एक सुनहरे युग का अंत हो गया है।

श्री निषाद पंडवानी वेदमती शैली के लोकप्रिय गायक थे। मुख्यमंत्री ने कहा – स्वर्गीय श्री पुनाराम निषाद ने अपनी विलक्षण प्रतिभा के बल पर पंडवानी को देश-विदेश में जन-जन तक पहुंचाकर छत्तीसगढ़ का मान बढ़ाया। राज्य की लोक-संस्कृति के विकास में उनके ऐतिहासिक योगदान को हमेशा याद रखा जाएगा। मुख्यमंत्री ने उनके शोक-संतप्त परिवार के प्रति अपनी गहरी संवेदना और सहानुभूति प्रकट की है और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की है।

ज्ञातव्य है कि श्री पुनाराम निषाद का आज यहां अम्बेडकर अस्पताल में निधन हो गया। श्री निषाद को भारत सरकार द्वारा वर्ष 2005 में पùश्री अलंकरण से सम्मानित किया गया था। वे दुर्ग जिले ग्राम रिंगनी के निवासी थे। उन्होंने दस वर्ष की उम्र से ही पंडवानी गायन शुरू कर दिया था।

रिपोर्ट- हरदीप छाबड़ा
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here