पाकिस्तान का दोहरा रवैया बर्दाश्त नहीं होगा, अगर नहीं सुधरे तो कड़े कदम उठाये जायेंगे : अमेरिका

0
12660

U.S. President Obama delivers speech in Mexico City

अमेरिका के रक्षा विभाग के मुख्यालय पेंटागन ने अमेरिकी कांग्रेस को अफगानिस्तान पर अपनी छमाही रिपोर्ट भेजी है, अपनी रिपोर्ट में अमेरिकी रक्षा विभाग ने कहा “अमेरिका लगातार पाकिस्तान के साथ उन कदमों के बारे में स्पष्ट रहा है, जो उसे सुरक्षा का माहौल सुधारने और आतंकियों और चरमपंथी समूहों को सुरक्षित ठिकाने न मिलने देने के लिए उठाने चाहिए |”

रिपोर्ट के अनुसार पकिस्तान के इस रवैये की वजह से अफगानिस्तान में स्थिरता और सुरक्षा पर पाकिस्तान और अमेरिका की वार्ता पर तो फर्क पड़ता ही है साथ ही साथ अमेरिका और पाकिस्तान के द्विपक्षीय रक्षा संबंधों पर भी असर पड़ता है |

अमेरिका के रक्षा मंत्री ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि मुझे नहीं लगता कि पाकिस्तान ने आतंकी समूह हक्कानी नेटवर्क के खिलाफ कोई कार्यवाही की हैं, इस रिपोर्ट के बाद पेंटागन ने 30 सितम्बर को खत्म होने वाले मौजूदा वित्तीय वर्ष में गठबंधन सहयोग कोष के तहत दी जाने वाली 30 करोड़ डॉलर की राशि पर रोक लगा दी है |

उन्होंने यह भी कहा कि आतंकवाद को लेकर पाकिस्तान की गतिविधियाँ काफी संदेहास्पद हैं, यह इस बात से स्पष्ट होता है कि ओसामा बिन लादेन को छिपाने की घटना के बाद पकिस्तान में सीआईए सेक्शन के प्रमुख को ज़हर दे दिया गया, जिसके बाद उन्हें वापस आना पड़ा, उनका और सीआईए का मानना है कि उन्हें पाकिस्तानी आईएसआई ने ज़हर दिया था |

उन्होंने कहा पाकिस्तान को धन देकर हम अपने ही विरोधियो को सशक्त कर रहे हैं क्योकि हमारे द्वारा दिया गया धन पाकिस्तानी आईएसआई के हांथों से होता हुआ तालिबान और अफगानिस्तान में उन लोगों के हांथों में जाता है जो अमेरिकियों की हत्या कर रहे हैं | पाकिस्तान को अमेरिकी मदद जारी रखने का मतलब है एक ऐसी सरकार को मजबूती और बढ़ावा देना जिसने अपने ही लोगों के साथ धोखा किया है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here