मोदी की रणनीति पड़ रही पाक पर भारी, भारत-अफगानिस्तान की बढ़ती दोस्ती से हुआ परेशान…

0
11389

अफगानिस्तान के राष्ट्रपति के साथ ख़ुशी से गले मिलते हुए भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
अफगानिस्तान के राष्ट्रपति के साथ ख़ुशी से गले मिलते हुए भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी

भारत और अफगानिस्तान के रिश्तों में बढती नजदीकियों से पाक घबराया हुआ है, और इसी घबराहट के चलते पाक ने बुधवार को कहा कि भारत – अफगानिस्तान की दोस्ती का प्रयोग पाक के खिलाफ नहीं होना चाहिए |

पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय के वीकली प्रेस कॉन्फ्रेंस में अफगानिस्तान को भारतीय हथियारों की आपूर्ति संबंधी सवाल के जवाब में, मंत्रालय के प्रवक्ता नफीस जकारिया ने कहा, ‘ऐसा कोई सहयोग पाकिस्तान के लिए हानिकारक नहीं होना चाहिए.’ भारत ने अफगानिस्तान को चार एमआई-25 हेलीकॉप्टरों की आपूर्ति की है और अफगान बलों को प्रशिक्षण भी दे रहा है |

बुधवार को अपनी परेशानी का इजहार करते हुए पाक प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान ने हमेशा ही कहा है कि अफगानिस्तान से विवाद का एकमात्र हल राजनीतिक तरीके से ही निकल सकता है, उन्होंने कहा इस संबंध में अफगान सरकार को व्यापक कदम उठाने चाहिए और हमारी पहल का सकारात्मक जवाब देना चाहिए |

गौरतलब है कि पाक की ओर से यह बयान ऐसे समय में आया है जबकि हाली ही में अफगानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति करजई ने भारत एक बेहतर दोस्त है और अफगानिस्तान के विकास में उसकी मदद कर रहा है, वह किसी भी छद्म युद्ध के लिए अफगानिस्तान का प्रयोग नहीं कर रह है, और पाक अभी भी हमारी ज़मीन पर आतंक फैला रहे पाकिस्तानी आतंकी संगठनों को समर्थन दे रहा है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY