कश्मीर मामले पर पाकिस्तान की और नापाक हरकत, भारत को दे रहा है चुनौती, ट्रेन पर लगाये आतंकी के पोस्टर

0
1946

burhan

पेशावर- गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह ने हाल ही में अपने ससंद के भाषण में कहा था कि ये ‘पडोसी है कि मानता ही नहीं’ आज गृहमंत्री की एक-एक बात अक्षरसः सत्य साबित हो रही है | हमारा पडोसी पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बाज ही नहीं आ रहा है | उसने पहले कश्मीर घाटी में भारतीय सेना द्वारा एनकाउंटर में मारे गए हिजबुल कमांडर के आतंकी बुरहान वानी को शहीद बताया था तो आज़ादी स्पेशल ट्रेन चला रहा है | यह ट्रेन 14 अगस्त को पाकिस्तान के पेशावर से करांची तक जायेगी | इस ट्रेन में पाकिस्तान ने हिजबुल मुजाहिद्दीन के कमांडर बुरहान वानी की तश्वीरों को लगा रखा है |

बतौर शहीद लगाई गयी है बुरहान वानी की तश्वीर –
इस ट्रेन में बुरहान वानी की तश्वीर को पाकिस्तान ने बतौर शहीद लगाया है | साथ ही पाकिस्तान ने हाल कि कश्मीर हिंसा में मारे गए लोगों की तश्वीरों को भी पोस्टरों के माध्यम से ट्रेन में लगाया गया है |

कश्मीरी अलगाववादी भी कर रहे है समर्थन –
पाकिस्तान की इस नापाक हरकत का कश्मीरी अलगाववादी भी अपना समर्थन दे रहे है | आपको बताते चले कि भारत विरोधी इस अभियान में पाकिस्तान का साथ कश्मीरी अलगाववादी नेता भी दे रहे है | कश्मीर घाटी के प्रमुख अलगावादी नेता सय्यद अली शाह गिलानी ने ट्रेन की बोगी पर लगे पोस्टरों को ट्वीट करते हुए लिखा है कि, ‘स्पेशल आजादी ट्रेन 14 अगस्त को पेशावर से कराची के लिए रवाना होगी, इस पर कमांडर बुरहान वानी और दूसरों की तस्वीर लगी है |’

पूरे पाकिस्तान को आतंक की आग में झोक रहा है पाकिस्तान –
पाकिस्तान की इस नापाक हरकत से एक बात तो साफ़ हो गया है कि पाकिस्तान आतंकियों के विरुद्ध कार्यवाही करने के लिए कितना संजीदा है | दरअसल और अगर साफ़ शब्दों में कहा जाय तो पाकिस्तान की यह स्टेट पालिसी ही रही है कि पाकिस्तान पीछे से आतंकियों का समर्थन करता रहा है | लेकिन बीते कुछ दिनों से जिस तरह से पाकिस्तान आतंकियों का खुले तौर पर समर्थन कर रहा, उनका महिमामंडन कर रहा है उससे यह साफ़ हो जाता है कि पाकिस्तान पूरे पाकिस्तान को ही आतंकी बनाने पर तुल चुका है |
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here