हवाई हमले में मुल्ला मंसूर के मारे जाने के अमेरिकी दावों का पाकिस्तानी मीडिया ने किया खंडन, कहा “टैक्सी चालक और यात्री मारा गया”

0
1100

MullahAkhterMansoor

आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में अमेरिका ने बड़ी कामयाबी हासिल की है, अमेरिका ने अफगानिस्तान सीमा से लगे पश्चिमी पकिस्तान इलाके के सुदूर क्षेत्र में किये गए हवाई हमले में तालिबानी नेता मसूर मुल्ला के मारे जाने की संभावना है |
अमेरिका के एक अधिकारी ने बताया कि मंसूर को निशाना बनाकर यह हमला करने की मंजूरी अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने दी थी, उसने यह भी बताया कि हमले में मंसूर के अलावां एक अन्य आतंकवादी के मारे जाने की भी संभावना है |
‘वाशिंगटन पोस्ट’ की रिपोर्ट के अनुसार, पश्चिमी पाकिस्तान स्थित अहमद वाल शहर के पास दूर दराज के इलाके में मौजूद एक वाहन पर कई ड्रोन विमानों ने हमला किया. हमला स्थानीय समयानुसार सुबह करीब छह बजे किया गया.

पेंटागन के प्रेस सचिव पीटर कुक ने कहा, ‘‘मंसूर तालिबान का नेता और काबुल एवं समूचे अफगानिस्तान स्थित संस्थाओं के खिलाफ हमलों की साजिश रचने में सक्रिय रूप से शामिल रहा, जो अफगान नागरिकों एवं सुरक्षा बलों, हमारे कर्मियों तथा गठबंधन सहयोगियों के लिए खतरा पैदा कर रहा था |”
अमेरिका के इस दावे का खंडन करते हुए पाकिस्तानी मीडिया ने कहा कि इस हवाई हमले में एक टैक्सी ड्राईवर और एक यात्री की मौत हुई है मुल्ला मसूर और उसके साथी की नहीं |
रिपोर्ट के मुताबिक, टैक्सी चालक की पहचान चमन निवासी मुहम्मद आजम और यात्री की पहचान वली मुहम्मद के रूप में की गई है। स्थानीय उर्दू टीवी चैनल ’92 न्यूज’ ने एक अज्ञात तालिबान कमांडर के हवाले से मंसूर के मारे जाने का खंडन किया। ‘अलजजीरा’ ने भी तालिबान सरगना मंसूर की मौत की खबरों का खंडन किया है। मुल्ला मंसूर को तालिबान के पूर्व सरगना मुल्ला उमर के मारे जाने के एक दिन बाद 30 जुलाई, 2015 को तालिबान सरगना बनाया गया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here