पाकिस्तानी वेबसाइट पर नितीश का विज्ञापन, मुश्किल में पड़े बीजेपी नेता |

0
215

advertisement_31_10_2015

अमित शाह के पटाखों वाले बयान के बाद आज बिहार से बीजेपी के नेता राजीव प्रताप रूडी ने पाकिस्‍तान के प्रमुख अखबार ‘द डॉन’ में जदयू के चुनावी विज्ञापन को महागठबंधन के पाकिस्‍तान कनेक्‍शन का प्रमाण करार दिया। बात-बात पर एक-दूसरे की टांग खींचने में लगे नेताओं को इसी बात पर लोगों ने जमकर खींचा।

केंद्रीय मंत्री राजीव प्रताप रूडी ने पाकिस्तानी न्यूज वेबसाइट ‘द डॉन’ पर नीतीश कुमार के चुनावी विज्ञापन का स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर शुक्रवार को शेयर किया। उन्‍होंने सवाल उठाया कि नीतीश ने आखिर किन वोटरों को लुभाने के लिए यह विज्ञापन पाकिस्तानी अखबार की वेबसाइट पर दिया? पर मामला समझ में आने के बाद में उन्‍होंने इसे डिलीट कर दिया।

विज्ञापन की बात चर्चा में आई तो भला भाजपा नेता व पूर्व उपमुख्‍यमंत्री सुशील कुमार मोदी क्‍यों पीछे रहते? उन्‍होंने भी ट्विटर पर ऐसा ही सवाल उठाया। उन्होंने संवाददाताओं से बातचीत में भी कहा कि इससे अमित शाह के उस कथन की पुष्टि होती है कि महागठबंधन की जीत पर पाकिस्‍तान में पटाखे फूटेंगे।

विदित हो कि भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने हाल ही में चुनावी जनसभा में कहा था कि अगर नीतीश-लालू जीत जाते हैं तो पाकिस्तान में पटाखे फोड़े जाएंगे।

पाकिस्‍तानी अखबार में जदयू के विज्ञापन पर एनडीए नेताओं के बयानों पर सोशल साइट यूजर्स ने जमकर प्रतिक्रिया दी है। उन्‍होंने नेताओं को समझाया है कि इस तरह के विज्ञापन गूगल की ओर से प्लेस किए जाते हैं। इनका प्लेसमेंट करते समय यूजर की लोकेशन, आइपी एड्रेस और सर्च हैबिट्स को ध्‍यान में रखा जाता है। इसी कारण भारत से ‘द डॉन’ की साइट ओपन करने पर वहां नीतीश कुमार के चुनावी विज्ञापन नजर आए।

टि्वटर यूजर्स ने तुरंत यह जानकारी न केवल राजनेताओं को दी, बल्कि उनका मजाक भी उड़ाया।

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

twenty − eighteen =