सऊदी में खुलेआम हुई पाक की बेईज्ज़ती- किसी को मुंह दिखाने लायक नहीं बचे नवाज़, ट्रंप के सामने हुई जमकर बेईज्ज़ती

0
124

रियाद- आतंकियों को पालना, पोसना और भारत का विरोध अब पाकिस्तान को भारी पड़ने लगा है यह तो पाकिस्तान की अवाम को भी पता चल चुका है लेकिन पाकिस्तान को इस कदर और अरब में अपमान का सामना करना पड़ेगा यह शायद न ही पाकिस्तान की अवाम को ही और न ही पाकिस्तानी मीडिया को ही पता था | दरअसल आपको बता दें कि जब और जहाँ पाकिस्तान की जमकर खिल्ली उडी है वह वक्त था अमेरिकन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का अरब दौरा और जहाँ यह बेईज्ज़ती पाकिस्तान को झेलनी पड़ी है वह जगह थी रियाद यानी सऊदी अरब |

आपको बता दें कि जिस मंच से खुद डोनाल्ड ट्रंप ने खड़े होकर भारत को आतंकवाद से पीड़ित देश करार दिया था और भारत के प्रति बेहद विनम्र व्यवहार अपनाया था उसी मंच पर जब बात आतंकवाद के खात्मे की हो रही थी तो उस मंच पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज़ शरीफ को चढ़ने तक नहीं दिया गया | इतना ही नहीं नवाज़ को उक्त मामले पर ट्रंप के सामने एक बार भी बोलने का मौका नहीं दिया गया | इसके बाद तो पाकिस्तान को भरी सभा में शर्मसार होना पड़ा |

पाकिस्तानी अवाम और मीडिया ने नवाज़ को लिया आड़े हाथों –
पूरी दुनिया और खासकर सभी अरब देशों के सामने पाकिस्तान की जिस तरह से सामूहिक बेईज्ज़ती हुई हिया उससे पाकिस्तानी अवाम और पाकिस्तानी मीडिया को बड़ा धक्का लगा है | पाक मीडिया ने ट्रंप के सामने हुई इस बेईज्ज़ती पर नवाज को आड़े हाथों लिया इतना ही नहीं पाकिस्तानी कुछ मीडिया नेटवर्क्स ने तो यहाँ तक कह दिया है कि जब आपको कही इज्ज़त मिलती ही नहीं तो कही जाने की जरूरत क्या है ?

ढाई घंटे तक की थी स्पीच पर मेहनत-
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक बताया जा रहा है कि इस इस्लामिक समिट के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप समेत कई अन्य नेताओं ने आतंकवाद जैसे मुद्दे पर अपने-अपने विचार रखे | इसी के लिए नवाज़ शरीफ ने अपनी यात्रा के दौरान तकरीबन ढाई घंटे तक अपनी स्पीच पर जमकर मेहनत की थी लेकिन जब वक्त बोलने का आया तो पाकिस्तान का नाम तक नहीं लिया गया | जबकि इसी मंच से राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने भारत को आतंक से पीड़ित देश बताया था |

क्या कहा है पाकिस्तानी मीडिया ने –
पाकिस्तानी अख़बार द नेशन ने लिखा है ट्रंप से मुलाकात के लिए पहुंचे करीब 50 ज्यादा प्रतिनिधियों में उन छोटे -छोटे देशों को बोलने का मौका दिया गया जो पाकिस्तान से आधे भी नहीं हैं| लेकिन पाकिस्तान प्रधानमंत्री को मंच पर खड़ा तक नहीं होने दिया गया| मौका था ट्रंप की सभा में आतंक पर लगाम लगाने पर विचार रखने का|

रिपोर्ट के अनुसार दुनिया के 14 मुस्लिम देशों में पाकिस्तान अकेला ऐसा देश है जिसके बाद न्यूक्लियर पॉवर है, इसके बावजूद भी पाकिस्तान को ट्रंप के सामने कोई तवज्जो नहीं दी गई |

रिपोर्ट्स में यह भी कहा गया है कि तहरीक ए इंसाफ पार्टी के मुखिया और पूर्व क्रिकेटर इमरान खान ने पाकिस्तान की बेइज्जती कराने के लिए नवाज शरीफ की खिंचाई की है| इमरान खान ने कहा है कि सऊदी अरब जाकर ट्रंप से मिलने के लिए नवाज शरीफ अपने कमांडोज के साथ गोल्फ खेलने की कई दिनों तक प्रक्टिस की ताकि वह ट्रंप के साथ खेल पाएं | लेकिन दुख की बात यह रही खेलना तो दूर नवाज शरीफ को ग्राउंट में भी नहीं घुसने दिया गया |

इतना ही नहीं नवाज शरीफ डेढ़ घंटे का एक भाषण तैयार करके भी सऊदी अरब ले गए थे लेकिन मंच पर आने के लिए पाकिस्तान का नाम तक नहीं लिया गया | ट्रंप के सामने सऊदी अरब में पाकिस्तान की जिस तरह से बेइज्जती हुई यहां पाकिस्तान के नागरिक काफी मायूस हुए हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here