फ्रांस की राजधानी पेरिस में अब तक का सबसे बड़ा आतंकी हमला |

0
366

http://futafrica.net/meest/gde-rastet-mindalniy-oreh.html где растет миндальный орех PARIsफ्रांस की राजधानी पेरिस में सीरियल आतंकवादी धमाकों और गोलीबारी में अब तक प्राप्त जानकारी के अनुसार कम से कम 200 से अधिक लोगों की जान चली गई है। 250 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। फ्रेंच मीडिया के मुताबिक, आतंकी समूह आईएसआईएस ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है।

схема проводки стартера ваз 2107 कंसर्ट हॉल में 100 लोगों को बंधक बना लिया गया है। इन हमलों के बाद फ्रांस में आने-जाने के सभी रास्तों को बंद कर दिया गया है। खबर के मुताबिक, फ्रांसीसी सुरक्षाबलों ने तीन हमलावरों को मार गिराया है। फ्रांस में आपातकाल की घोषणा कर दी गई है। पेरिस में सात जगहों पर हमले हुए हैं। इस हमले की तुलना 26/11 के मुंबई हमलों से की जा रही है। पेरिस हमले में जगह-जगह बम धमाके किए गए हैं, रेस्टोरेंट में गोलीबारी के बाद थियेटर में 100 से अधिक लोगों को बंधक बना लिया गया है। हमलावरों के चंगुल से बचकर निकले एक व्यक्ति ने कहा कि वो लोगों को चुन-चुन कर गोलियों का निशाना बना रहे हैं।

http://xn--80adhccskdixkmdq.xn--p1ai/library/skolko-zarabativayut-instruktoripo-vozhdeniyu.html сколько зарабатывают инструкторыпо вождению दूसरे विश्वयुद्ध के बाद से फ्रांस में हुई यह अब तक की सबसे घातक हिंसात्मक घटना है। राष्ट्रपति फ्रांस्वा ओलांद ने संकल्प लिया कि फ्रांस आतंकवाद के खिलाफ दृढ़ता के साथ खड़ा रहेगा। फ्रांसीसी मीडिया के मुताबिक इन हमलों के लिए आईएसआईएस ने जिम्मेदारी ली है। इससे पहले जिहादियों ने ट्विटर पर हमले की सराहना की थी और इस्लामिक स्टेट के चरमपंथियों के खिलाफ फ्रांस के सैन्य अभियानों की आलोचना की थी।

карта гис ставрополь सबसे भयावह जनसंहार एक कॉन्सर्ट हॉल में हुआ जहां एक अमेरिकी रॉक बैंड को प्रस्तुति देनी थी। कई लोगों को यहां बंधक बना लिया गया और हमलावरों ने इन बंधकों की ओर विस्फोटक उछाल दिए। इमारत पर धावा बोलकर पुलिस ने तीन हमलावरों को मार गिराया। पुलिस को इमारत के अंदर बेहद भयावह खूनी मंजर दिखाई दिया।

http://mitchen.net/library/raspisanie-avtobusov-aeroport-koltsovo-nizhniy-tagil.html расписание автобусов аэропорт кольцово нижний тагил पेरिस के प्रोसीक्यूटर फ्रांस्वा मोलिंस ने कहा कि पांच हमलावर मारे गए हैं। हालांकि यह अभी तक स्पष्ट नहीं हो पाया है कि उनकी कुल संख्या कितनी थी और कितने लोग अभी पकड़ से बाहर हैं। अधिकारियों ने कहा कि कुल छह स्थानों पर मारे गए लोगों की संख्या 150 के पार जा सकती है।

из старых свитеров ओलांद ने आपात स्थिति की घोषणा कर दी और साथ ही उन्होंने यह भी घोषणा की कि वह देश की सीमाएं बंद कर रहे हैं। मात्र 10 माह पहले हुए शार्ली एब्दो हमले के कारण शहर में भय का माहौल था और अब हुए इन हमलों के कारण लोगों में भय और बढ़ गया है। पुलिस अधिकारी ने कहा कि कॉन्सर्ट हॉल में हुई मौतों के अलावा पेरिस के 10वें प्रांत के एक रेस्तरां में 11 लोग मारे गए। अधिकारियों ने कहा कि एक स्टेडियम के बाहर बम फटने से कम से कम तीन लोग मारे गए।

http://chodidienro.com/owner/sbornik-zadach-po-visshey-matematike-lungu-pdf.html сборник задач по высшей математике лунгу pdf स्टेडियम के बाहर बम फटने के बाद ओलांद को स्टेडियम से निकालना पड़ा। उन्होंने टीवी पर प्रसारित अपने संबोधन में कहा कि देश दृढ़ता के साथ एकजुट होकर खड़ा रहेगा। ओलांद ने कहा, ‘यह एक कड़ी परीक्षा है, जिसने एक बार फिर हम पर हमला बोला है।’

http://test.tvmaster.eu/priority/po-pravam-cheloveka-ofitsialniy-sayt-moskva.html по правам человека официальный сайт москва उन्होंने कहा, ‘हम जानते हैं कि यह किसने किया है, अपराधी कौन हैं और ये आतंकी कौन हैं?’ अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने वाशिंगटन में संवाददाताओं से कहा कि पेरिस पर किए गए हमले ‘मासूम नागरिकों को आतंकित करने का घृणित प्रयास है।’ उन्होंने संकल्प जताया कि वह इन हमलों के साजिशकर्ताओं को न्याय के कटघरे तक लाने के लिए हर संभव मदद करेंगे। उन्होंने इन हमलों को ‘हृदय विदारक स्थिति’ और ‘संपूर्ण मानवता पर हमला’ करार दिया।