नोटबंदी के मामले को लेकर संसद में हंगामा जारी, लोक सभा सोमवार तक के लिए और राज्यसभा 2:30 तक के लिए स्थगित

0
198

sansad

नई दिल्ली- पीएम मोदी के 8 नवंबर को 500 और 1000 रूपये की नोट बंदी को लागू करने के बाद संसद में लगातार गतिरोध बरकरार है | सभी विपक्षी पार्टियाँ लगातार सरकार के ऊपर हमले कर रही है | ज्ञात हो कि हाल ही में ममता बनर्जी ने मोदी सरकार के इस आदेश को तुगलकी फरमान कहा था |

बीजेपी ने गुलाम नबी आज़ाद से माफ़ी की मांग –
उधर आज संसद के सदन में उस वक्त हंगामा हो गया जब बीजेपी के सांसदों ने कांग्रेस के राज्य सभा सांसद गुलाम नबी आज़ाद से उनके उस बयान पर माफ़ी मांगने के लिए कहा जिसमें उन्होंने नोटबंदी के बाद लोगों की हुई मौतों को उरी हमले से जोड़कर बयान दिया था | गौरतलब है कि गुलाम नबी आज़ाद ने कहा था कि, उरी हमले में भी उतनी मौते नहीं हुई थी जितनी पीएम के एक गलत फैसले (नोटबंदी) से हो गयी है | हालाँकि इस बयान पर कांग्रेस गुलाम नबी आज़ाद का बचाव करती दिखी है और अभी तक गुलाम ने माफ़ी नहीं मांगी है |

पीएम मोदी ने वरिष्ट मंत्रियों के साथ की बैठक –
उधर संसद में चल रहे लगातार गतिरोध से निपटने के लिए प्रधानमंत्री श्री मोदी ने अपने वरिष्ठ मंत्रियों के साथ एक बैठक की है | इस बैठक में पीएम के साथ वित्तमंत्री अरुण जेटली, वेंकया नायडू, अनंत कुमार आदि मौजूद रहे |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here