चौथे चरण के चुनावों के लिये पूरा जोर लगा रही राजनीतिक पार्टियाँ

0
114

प्रतीकात्मक

नई दिल्ली: उत्तर-प्रदेश में नेता विपक्षियों पर हमले का कोई मौका नहीं चूक रहे है। लगातार रैलियों पर एक दूसरे पर बरस रहे हैं। नेता यूपी में जनता को रिझाने की हर मुमकिन कोशिश में लगे हुए हैं लेकिन यूपी में चौथे चरण के चुनाव के लिए प्रसार का आज आखिरी दिन था। इलाहाबाद में बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह अल्लापुर से घंटाघर तक रोड शो किये हैं तो यूपी के सीएम अखिलेश यादव और कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी भी आनंद भवन से गोल पार्क तक रोड शो किये हैं. दोनों ही रोड शो में भारी भीड़ उमड़ी. इलाहाबाद में 23 फरवरी को मतदान है |

चौथे चरण के लिए चुनाव प्रचार का शोर आज थम गया

यूपी में चौथे चरण के लिए चुनाव प्रचार का शोर आज थम गया. चौथे चरण में बुंदेलखण्ड क्षेत्र के कई जिलों समेत 12 जिलों की 53 सीटों के लिए चुनाव प्रचार आज शाम थम गया. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के संसदीय निर्वाचन क्षेत्र रायबरेली के साथ-साथ प्रतापगढ़, कौशाम्बी, इलाहाबाद, जालौन, झांसी, ललितपुर, महोबा, बांदा, हमीरपुर, चित्रकूट और फतेहपुर जिलों की 53 सीटों पर 23 फरवरी को मतदान होगा. चौथे चरण में कुल 680 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा.इलाहाबाद उत्तरी सीट पर सबसे ज्यादा 26 प्रत्याशी मैदान में हैं. वहीं, खागा(फतेहपुर), मंझनपुर(कौशाम्बी) और कुंडा(प्रतापगढ़) में सबसे कम छह-छह उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं.

53 सीटो पर हुए चुनाव में सपा को 24 सीटो पर सफलता मिली थी

साल 2012 में चौथे चरण में इन 53 सीटों पर हुए चुनाव में सपा को 24 सीटों पर सफलता प्राप्त हुई थी. इसके अलावा बसपा ने 15, कांग्रेस ने छह, बीजेपी ने पांच और पीस पार्टी ने तीन सीटें जीती थीं. चौथे चरण के चुनाव में जिन प्रमुख प्रत्याशियों के भाग्य का फैसला होगा, उनमें कांग्रेस के राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी की बेटी आराधना मिश्रा(रामपुर खास), बाहुबली निर्दलीय प्रत्याशी रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया(कुंडा), बाहुबली विधायक अखिलेश सिंह की बेटी कांग्रेस प्रत्याशी अदिति सिंह(रायबरेली), विधानसभा के पूर्व नेता प्रतिपक्ष स्वामी प्रसाद मौर्य के बेटे उत्कर्ष मौर्य(उंचाहार सीट- रायबरेली), सपा के वरिष्ठ नेता रेवती रमण सिंह के बेटे उज्ज्वल रमण सिंह(करछना- इलाहाबाद) और विधानसभा में विपक्ष के नेता गयाचरण दिनकर(नरैनी-बांदा) शामिल हैं. चौथ चरण में कई नेताओं की साख दांव पर लगी हुई है। 2012 के चुनाव में चौथे चरण में 53 सीटो पर हुए चुनाव में सपा को 24 सीटो पर सफलता मिली थी। चौथे चरण में कुल 680 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY