पर्यावरण संरक्षण के प्रति जन-मानस को जागरूक करने की आवश्यकता : नीलकंठ तिवारी

0
81


रायबरेली (ब्यूरो)- पर्यावरण की हमारे जीवन में अति महत्तवपूर्ण भूमिका है। भारतीय दर्शन में पुरातन काल में ऋषियों-मुनियों द्वारा पर्यावरण संरक्षण किया गया तथा उसके महत्व के विषय में जानकारी दी गई है। हमें पर्यावरण संरक्षण के प्रति जन-मानस को जागरूक करने की आवश्यकता है।

यह उद्गार मुख्य अतिथि राज्य मंत्री सूचना, विधि, न्याय, खेलकूद विभाग उ0प्र0 शासन डाॅ0 नीलकण्ठ तिवारी ने पर्यावरण संरक्षण समिति द्वारा जिला पंचायत, सभागार में आयोजित पर्यावरण एवं स्वच्छता संगोष्ठी में व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि मनुष्य के जन्म के साथ ही प्रकृति उसके साथ होती है, प्रत्येक जीव के विकास में पर्यावरण की महत्वपूर्ण भूमिका होती है। हमारे जीवन के लिए अति महत्वपूर्ण वस्तुएं जैसे शु़द्ध हवा, शुद्ध पानी, खाद्यन्न आदि पर्यावरण से होता है। इसीलिए पर्यावरण को संतुलित एवं स्वच्छ बनाये रखना हम सबकी जिम्मेदारी है। विशिष्ट अतिथि पूर्व प्रमुख वन संरक्षक उ0प्र0 डाॅ0 राम लखन सिंह ने कहा कि आज जहां पर्यावरण असंतुलित हो गया वही वैज्ञानिकों द्वारा पर्यावरण संरक्षण एवं संतुलन के लिए कई शोध किये जा रहें हैं। उन्होंने कहा कि मानव जाति ने काफी प्रगति की हैं। आज जहां पर्यावरण को लेकर चिंताएं बहुत है। वही इसमें सम्भावनाएं भी बहुत हंै।

संगोष्ठी में विभिन्न स्कूलों के छात्र छात्राओं-प्रणव त्रिपाठी, आस्था पाण्डेय, कृतिका दुबे, आदित्यराज बाजपेई, गरिमा सिंह, आर्यमान श्रीवास्तव, अरविन्द श्रीवास्तव व सपना साहु आदि ने पर्यावरण संरक्षण पर अपने-अपने विचार प्रस्तुत किये, जिन्हें मुख्य अतिथि एवं जिलाधिकारी द्वारा प्रशस्ति पत्र देखकर सम्मानित किया गया। पर्यावरण संरक्षण में जनपद रायबरेली में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले संस्थान एसीसी टिकरिया वर्कस, एनटीपीसी ऊँचाहार, विशाखा इण्डस्ट्रीज तथा अध्यक्ष ओम शिव शक्ति सेवा मण्डल, बसंत सिंह बग्गा, किरण सिंह, डाॅ0 रमेश कुमार श्रीवास्तव तथा आरपी सिंह ने मुख्य अतिथि को प्रशस्ति पत्र देखकर सम्मानित किया। इस अवसर पर जिलाधिकारी अभय सिंह, मुख्य विकास अधिकारी देवेन्द्र कुमार पाण्डेय, अपर पुलिस अधीक्षक शशि शेखर सिंह, नगर मजिस्ट्रेट आलोक कुमार, सूर्यकान्त मिश्रा एवं भाजपा जिला अध्यक्ष दिलीप यादव आदि उपस्थित रहें।

रिपोर्ट- राजेश यादव

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here