पशु तस्करो की खुलेगी हिस्ट्रीशीट, होगी कड़ी निगरानी

0
150

गोरखपुर (ब्यूरो) – दुधारू पशुओ की तस्करी एंव कटान पर पूर्ण रूप से लगाम लगाने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की मंशा को देखते हुए | आईजी मोहित अग्रवाल अब सख्त हो गये है, आईजी ने जोन के सभी पुलिस प्रमुख को पत्र लिख कर यह निर्देश दिया है कि एैसे पशु तस्कर जो पहले इस धंधे मे लिप्त रहे है | इस समय भी पकड़े जाते है उनकी हिस्ट्रीशिट खोलकर उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाय | इतना ही नही उन्होने पुलिस प्रमुखो को यह भी आगेश दिये की पशु तस्करी मे लिप्त लोगो की सूची तैयार करे |

गोरखपुर परिक्षेत्र के ३३ थाना क्षेत्रो के १७ रास्तो से होता है यह कारोबार-
पशु तस्करी की बात करे तो गोरखपुर परिक्षेत्र के ३३ थाना क्षेत्रो के १७ रास्तो से यह कारोबार संचालित होता है इसका खुलासा २०१५ मे तत्कालीन डीआईजी आर के चतुर्वेदी ने किया था उनहोने इस पर लगाम लगाने के लिए २०१५ मे गोरखपुर, देवरिया, कुशीनगर, महराजगंज जिलो के पुलिस कप्तानो को ३३ थाना क्षेत्रो के १७ रास्तो को तस्करी के लिए चिन्हित करते हुए पशु तस्करी की जानकारी दी थी |

चिन्हित थाना क्षेत्र-
गोरखपुर जनपद के गोला, बडहलगंज, गगहा, खजनी, बेलीपार, सहजनवां, चिलुआताल | देवरिया जनपद के बरहज, मईल, लार, कोतवाली बाजार, तरकुलवा, बघौचघाट, सलेमपुर, खुखुन्दु,भाटपार, बनकटा | कुशीनगर जनपद के नेबुआ नौरंगिया, कोतवाली पड़रौना, खड्डा, तरयासुजान, पटहेरवा, विशुनपुरा, हाटा, बरवापट्टी व बहादूरपुर, महराजगंज जनपद मे कोल्हुई, बृजमनगंज, घुघली, श्यामदेउरवा, कोठीभार, फरेंदा प्रमुख रूप से है |

रिपोर्ट- जयप्रकाश यादव
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here