पशुओं का कुशल प्रबन्धन से करे देखभाल-ज्ञानेंद्र राय

0
65

कमालपुर/चन्दौली (ब्यूरो)- हरिद्वार राय इंटर कालेज बभनियाव में आयोजित पंडित दीन दयाल उन्नत कृषि शिक्षा योजना के तहत पांच दिवसीय प्रशिक्षण मंगलवार को समाप्त हुआ। इसमे किसानों को फसलो के प्रबंधन व डेयरी प्रबन्धन की भूमिका के बारे में विस्तृत चर्चा किया गया।साथ ही श्वेत क्रांति से दुगना आमदनी कर जीवन को उच्च स्तर पर ले जाने का गुण बताया गया।

प्रशिक्षक चन्द्रशेखर मिश्रा ने कहा की इन दिनों खेतो में कटाई व मड़ाई का कार्य युद्धस्तर पर चल रहा है। जबकि किसानों को बीज का प्रबंधन करना बहुत ही जरुरी है। किसान यदि कुशल प्रबन्धन से खेतो में फसल पैदाकर व्यापार का कार्य कर सकता है। खेतो में फसलो को पैदाकर उसका उचित मूल्य प्राप्त कर किसान अपनी आमदनी दुगनी बढ़ोत्तरी कर सकता है। नाबार्ड के माध्यम से किसान क्लब बनाकर अपने फसलो का उचित मूल्य प्राप्त कर सकते है।

प्रशिक्षक ज्ञानेंद्र राय ने कहा कि गायो को पशु धन मन जाता है। यदि पशुओं का सही कुशल प्रबन्धन से देखभाल किया जाये तो आय का अच्छा माध्यम मिल सकता है। जानवरो को बीमार होने पर उसका प्राकृतिक रूप से उपचार किया जाये। इससे धन को काफी हद तक बचाया जा सकता है।साथ ही बेवजह खर्च से छुटकारा मिल जायेगा। इस मौके पर संयोजक हरेन्द्र कुमार राय, सन्तोष पाण्डेय, रामप्रताप राय, जयप्रकाश उपाध्याय, श्यामसुंदर सिंह, रविशंकर सिंह, गणेश, राधेश्याम सिंह, आलोक राय, कामेश्वर राय, राकेश सिंह, सुनील सिंह सहित अन्य उपस्थित रहे।

रिपोर्ट- कुलदीप यादव 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY