जिले में मरीजो की संख्या तेजी से बढ़ रही

0
140

जालौन। मौसम के बदलाव से अस्पतालों में खांसी, जुकाम, वायरल फीवर के मरीजो की संख्या बढ़ी। इस मौसम में डाक्टरो द्वारा मरीजों को सर्दी से बचने की सलाह दी जा रही है

जनवरी माह के अन्तिम सप्ताह मे हुई अतिवृष्टि तथा ओलावृष्टि से मौसम मे बदलाव होने से लोग खांसी जुकाम तथा वायलर फीवर से लोग ग्रसित हो रहे हैं। दिन में तेज धूप तो शाम ढलते ही सर्दी से बेहाल लोग खांसी, जुकाम आदि रोगों के घेरे में आने लगे हैं। ऐसे मे ज्यादातर मरीज सरकारी तथा गैर सरकारी अस्पतालों में जाकर अपना इलाज करा रहे हैं। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में मरीजो की संख्या सामान्य दिनों की अपेक्षा दोगुनी होती जा रही है। अस्पताल से मिली जानकारी के मुताबिक चार सौ से पांच सौ मरीज प्रतिदिन अस्पताल में इलाज के लिए आ रहे हैं। पहले यही संख्या दो सौ से ढाई सौ तक ही रहती थी। जितने भी मरीज आ रहे है उनमें से अधिकांश मरीज खांसी, जुकाम तथा वायरल फीवर से पीड़ित ही आ रहे हैं। जब इस सदंर्भ मे जब सामुदायिक केंद्र प्रभारी डा. मुकेश राजपूत से बात की गयी तो उन्होंने बताया कि मौसम में बदलाव होने की वजह से मरीजों की संख्या बढ़ रही है। अधिकांश मरीजों को खांसी, जुकाम व वायरल फीवर है। मलेरिया आदि के मरीजो की संख्या कम है। वह मरीजों व उनके तीमारदारों को सलाह देते हुए कहते हैं कि रोगों से बचने के लिए इस मौसम में सर्दी से बचाव करें। इसके अलावा खान, पान पर भी विशेष ध्यान दें। अधिक तेल, मसाले व तली हुई चीजों के प्रयोग से बचें। बाजार में बिकने वाली व खुले में रखी हुई चीजें खाने से बचें। ताजा एवं सादा भोजन समय पर करें।
रिपोर्ट- अनुराग श्रीवास्तव
हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here