हरियाली बनाने वाले ही हरियाली को उजाड़ने में जुटे

0
55

खीरों/रायबरेली ब्यूरो- प्रदेश की योगी सरकार जहां प्रदेश को हरा भरा बनाने के लिए करोड़ों रुपए का बजट पानी की तरह बहाकर वन विभाग को हराभरा बनाने के लिए बजट देती है, वहीं हरियाली बनाने वाले ही हरियाली को उजाड़ने में अपनी भरसक कोशिश करते आए दिन नजर आते हैं | सवाल यह है कि क्या सरकार से मिलने वाली तनख्वाह से उनके पेट नहीं भरते जिससे हरे भरे पेड़ों को कटवा कर उनसे रुपया कमाने का काम करते हैं।

विकासखंड में आए दिन वन विभाग के कर्मचारियों की मिलीभगत से हरेभरे पेड़ों को काटा जाता है अगर उनसे शिकायत की जाती है तो मामूली तौर की कार्रवाई कर अपना पल्ला झाड़ लेते हैं लेकिन इस बार पुलिस ने बड़ी कार्रवाई करते हुए लकड़ी सहित लकड़कट्टे को हवालात में डाल दिया। जानकारी के अनुसार थाना क्षेत्र में विगत माह से अलग-अलग स्थानों पर हरे भरे पेड़ों पर लक्कड़कटो द्वारा आरा चलता था और जिम्मेदार अधिकारी अपना दामन दबाए जिम्मेदारी को दरकिनार कर देखा करते थे लेकिन रविवार को थानाध्यक्ष खीरो संजय सिंह को सोशल मीडिया पर थाना क्षेत्र के रनापुर पहरौली गांव में एक ठेकेदार द्वारा पेड़ काटे जाने की जानकारी मिली जिस पर तेजी दिखाते हुए संजय सिंह ने तत्काल मौके पर पहुंचकर ठेकेदार सहित लकड़ी को थाने ले आए थानाध्यक्ष ने बताया कि ठेकेदार का नाम राजेश सोनकर रायबरेली का रहने वाला है घटनास्थल पर तीन बगैर परमिट के पेड़ काटते हुए पाया गया जिस पर लकड़ी सहित उपयोग में आने वाले सभी औजार भी पुलिस थाने ले आई है संबंधित धाराओं में मामला दर्ज कर आवश्यक कार्यवाही की जाएगी।

रिपोर्ट – अनुज मौर्य/धर्मेंद्र भारती 

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY