हाथी की मृत्यु से ग्रामीणों में शोक व्याप्त

0
76

le

खीरों/रायबरेली (ब्यूरो)- खीरो थानाक्षेत्र के अंतर्गत दुकनहा गाँव में स्थित रावतबीर बाबा मंदिर प्रांगण में आज सुबह लगभग ७ बजे एक हांथी की मृत्यु हो गयी | जानकारी के अनुसार भदोही जिले के सुरियावां थाने के अंतर्गत अबरना गाँव के रामचंद्र उपाध्याय का हांथी लगभग एक माह पूर्व गाँव के ही पं बृजमोहन मिश्र तथा पं श्रीकांत उपाध्याय तथा पं शिवपूजन तिवारी निवासी ग्राम गोहका, थाना मछीस, जिला जौनपुर एवं महावत जगदीश एवं शहबान की देखरेख में गाँव से चला था | सभी लोग गाँव गाँव घूमकर लोगों से गेंहू, चावल इत्यादि एकत्रित करते थे जिससे अपने परिवार तथा हांथी का भरण-पोषण करते थे |

भदोही जिले से चलने के बाद जौनपुर, प्रतापगढ़ जिले से होते हुए लगभग दस दिन पहले यह लोग रायबरेली जिले पहुंचे | कल सुबह सभी लोग दुकनहा गाँव पहुंचे जहां गाँव में घूमने के बाद, वह लोग पड़ोस के गांव उन्नतखेड़ा, गंगाखेड़ा, सलीमापुर तथा हरिरामखेड़ा आदि गाँव में घूमने के बाद वापस दुकनहा गाँव में स्थित रावतबीर बाबा मंदिर प्रांगण में रात्रि विश्राम के लिए रुक गए | महावत के अनुसार रात्रि लगभग १ बजे तक हांथी बिलकुल सही था तथा चारा खा रहा था | सुबह उठने के बाद जब महावत ने हांथी को सुस्त हालत में देखा तो उसने अपने साथियों को सूचित किया | जानकारी मिलने पर गाँव के लोग एकत्रित हो गए | ग्रामीणों ने हांथी की तबियत ख़राब होने की सूचना खीरों पशु चिकित्सालय में कार्यरत डा पंकज कुमार को फोन पर दी | जानकारी मिलने पर खीरों पशु चिकित्सालय से फार्मासिस्ट मौके पर पहुंचे किन्तु तब तक हाथी ने दम तोड़ दिया था | हांथी की उम्र लगभग ४० वर्ष बताई जा रही है | हांथी की मृत्यु से ग्रामीणों में शोक व्याप्त है | ग्रामीणों की मदद से उसी स्थान पर जेसीबी से खुदाई कराकर मृत हांथी का अंतिम संस्कार कराया जा रहा है | जानकारी के अनुसार ग्राम प्रधान द्वारा खीरों थाने में भी सूचना दे दी गयी थी किन्तु अभी तक वन विभाग या थाने का कोई भी कर्मचारी घटना स्थल पर नहीं पहुंचा है |

रिपोर्ट- आशीष शुक्ला

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here