विधायक के निधन से जिला भाजपाइ कार्य कारिणी में शोक की लहर

0
40

औरैया (ब्यूरो) उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात की सिकन्दरा विधानसभा सीट से विधायक 72 वर्षीय मथुरा प्रसाद पाल का शनिवार सुबह पांच बजे निधन हो गया। मथुरा पाल का निधन मथुरा के पास उस समय हुआ, जब उन्हें इलाज के लिए दिल्ली ले जाया जा रहा था। वह तीसरी बार विधायक बने थे। 

उनके निधन पर सदर विधायक रमेश दिवाकर के कार्यालय पर उनकी आत्मा की शान्ति हेतु दो मिनट का मौन रखा गया व ईश्वर से दुःखी व संतप्त परिवार को धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की प्रार्थना की। गयी। विधायक रमेश दिवाकर ने उनके जीवनवृत्त के बारे में बताया श्री पाल ने जीवन का सफर देश सेवा से शुरू किया। वह सेना में भर्ती हुए और सैनिक रहते हुए देश सेवा की। बीआरएस लेने के बाद गांव लौटे तो राजनीति में किस्मत अजमाने पहले निर्दलीय चुनाव लड़े, बाद में विधायक बने। इसके बाद 1997 और 2017 में भाजपा से विधायक चुने गए। प्रदेश मंत्री/जिलाध्यक्ष श्रीमती गीता शाक्य ने बताया कि वह लम्बे समय से बीमार चल रहे थे। विधानसभा चुनाव से पहले वह काफी बीमार थे। बीमारी की हालत में ही उन्होंने नामांकन किया था। बीमारी से लड़ते हुए वह राजनीति कर रहे थे। 17 जुलाई को होने वाले राष्ट्रपति के चुनाव में अत्यधिक बीमारी हालत में भी उन्होंने वोट किया था। उनके निधन से समाज में एक अपूर्णनीय रिक्तता हो गयी है। 

इस मौके पर जिलामहामंत्री अमरचन्द्र राठौर, श्रीराम मिश्रा, जिलाउपाध्यक्ष धर्मेन्द्र सिंह मोनू, अनिल शुक्ला, नगर अध्यक्ष कृष्णचन्द्र सावरन, रामजी दिवाकर, रवि चतुर्वेदी, सुधीर शुक्ला, राकेश तिवारी, महेश कुशवाहा, कमलेश दिवाकर, चन्दन, ऋषि कुशवाहा, हरपाल सिंह, विशाल शुक्ला, जिला मीडिया प्रभारी बृजेश बन्धु सहित अन्य लोग उपस्थित रहे। 

रिपोर्ट – मनोज कुमार

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY