दिवाली से पहले फिर थमेंगे रोडवेज के पहिए, उत्तराखंड की जनता होगी परेशान

0
68

देहरादून (ब्यूरो)- समय से वेतन न मिलने और अन्य मांगों को लेकर रोडवेज के पहिए फिर थम सकते हैं। मांगे न माने जाने से नाराज उत्तरांचल रोडवेज कर्मचारी यूनियन ने 17 अक्टूबर को एक दिन के कार्य बहिष्कार और 24 अक्टूबर से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर जाने की चेतावनी दी है। वहीं, रोडवेज प्रबंधन को चिंता सता रही कि अगर 17 अक्टूबर को कर्मचारी एकदिवसीय हड़ताल पर रहते हैं तो धनतेरस पर जाने वाली यात्रियों की भीड़ को कैसे बस सेवाएं दी जाएंगी।

मंगलवार को हुई आंदोलन को लेकर यूनियन की प्रांतीय कार्यकारिणी की बैठक में महामंत्री अशोक कुमार चौधरी ने कहा कि रोडवेज प्रबंधन ने समस्याओं को लेकर एक समझौता किया था, मगर उसका अनुपालन नहीं किया जा रहा। सरकार पर विभिन्न मदों का 48 करोड़ 96 लाख रुपये बकाया है, लेकिन सरकार ने किराया वृद्धि को मंजूरी देकर रोडवेज की आय लगभग चार करोड़ रुपये महीना बढ़ा दी है। इसके बावजूद कर्मचारियों को वक्त से वेतन नहीं मिल रहा। सातवें वेतनमान का लाभ तक नहीं दिया जा रहा।

यूनियन ने मांग की है कि सभी समझौतों का पालन किया जाए। इसके साथ ही नियमित, विशेष श्रेणी समेत संविदा और कार्यशाला कर्मियों को बोनस भुगतान किया जाए। कर्मचारियों का चार वर्ष का अतिकाल भत्ता और वेतन कटौती का जो अवशेष चार माह से लंबित है उसे तत्काल जारी किया जाए। यूनियन ने कहा है कि यह रोडवेज प्रबंधन की लापरवाही का ही परिणाम है कि यूनियन को त्योहारों के समय पर आंदोलन करना पड़ रहा है|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here