हथठेले वालों ने प्रशासन के आदेश को दिखाया ठेंगा

0
49

मैनपुरी(ब्यूरो)- बाजार के दबंग और हटी फल विक्रेताओं ने उपजिलाधिकारी सदर द्वारा अतिक्रमण से मुक्त कराये गये। पुरानी तहसील चैराहा, घंटाघर और कचहरी रोड़ से बड़े चैराहे तक मनमानी से अपने चार पहिया हथठेले लगाना शुरू कर दिया है। जिससे बाजार में पुनः जाम की स्थिति बनने लगी है और जाम लग जाने की स्थिति में यह ठेले वाले अपनी जगह से हटने को तैयार नहीं होते बल्कि मना करने वाले से मरने मारने पर उतारू हो जाते है। प्रशासन ने पुलिस का सहयोग लेकर इन्हें कोतवाली से सचदेवा पम्प तक ठेले लगाने की अनुमति दी थी। जिसे ठुकराकर यह लोग पुनः बाजार में ही ठेले लगाने लगे है।

पूरे बाजार और देवीरोड़ से लेकर घंटाघर चैराहा मदार दरवाजा, बड़े चैराहे से सिटी पोस्ट आॅफिस और क्रिश्चियन तिराहे तक फल सब्जी और अन्य जरूरी बस्तुओं को बेचने वाले ठेले लम्बे समय से पक्की सड़क पर स्थाई रूप से अतिक्रमण कर जहां अपना व्यापार कर रहे थे। वहीं गुण्डागर्दी और दबंगई के चलते यह लोग खरीददारों के साथ घटतौली और मनमानी भी करते थे। ग्राहकों द्वारा विरोध किये जाने पर यह लोग उसकी पिटाई कर देते थे और मनमानी कीमत भी बसूल करने से बाज नहीं आते थे। जब यह शिकायतें जिला प्रशासन तक पहुची तो नगर को अतिक्रमण मुक्त खुला-खुला सा बनाने की मंशा रखने वाले युवा उपजिलाधिकारी अमित कुमार ने भीषण गर्मी की परवाह किये बिना कई दिनों तक नगर की सड़कों पर पैदल भ्रमण करते हुये दुकानदारों और ठेले वालों को अपनी हद में रहकर व्यापार करने की सलाह दी। परन्तु इन विगडेल दुकानदारों और ठेले वालों ने उपजिलाधिकारी अमित कुमार के सराहनीय प्रयास पर मिर्चाे का बोरा झाडतें हुये अपनी मनमानी करनी आरम्भ कर दी। यही हाल उन हथठेले वालों ने भी किया और शहर की खूबसूरती को बदसूरत रूप में पसन्द करने वालों ने भी अपने ठेले बताई जगह से हटाकर शहर की तंग सड़कों पर लगाने आरम्भ कर दिये। इससे बाजार में पुनः जाम के हालात बनने लगे है। इधर दुकानदारों ने भी ग्राहको की साइकिलें, मोटर साइकिले कुछ इस प्रकार से लगवानी आरम्भ कर दी है। जिससे पूरी सड़क दुकान के सामनें घिरती नजर आ रही है।

रिपोर्ट- दीपक शर्मा 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here