फर्जी पत्रकारों की बाढ़ से जनता में रोष

0
15

छिबरामऊ/कन्नौज(ब्यूरो)- छिबरामऊ तहसील क्षेत्र  में इस समय जिला सूचना विभाग की लचर प्रणाली के चलते फर्जी पत्रकारों की बाढ सी आ गयी है। वहीं इनके द्वारा ग्राम पंचायतों, मेडिकल क्लीनिक, सरकारी अस्पतालों व मान्टेसरी विद्यालयों व अन्य स्थानॊं पर पहुंचकर ठगी करने का काम जोर शोर से चल रहा है। वहीं इन पर अंकुश लगाये जाने की हैं।

जिला सूचना विभाग की उदासीनता कहें या फिर लचर प्रणाली जिसके चलते छिबरामऊ क्षेत्र में फर्जी चैन व प्रिन्ट मीडिया एवं इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के पत्रकारों की बाढ सी आ गयी है। सुबह सूर्य की पौ फटते ही यह अपने हाथों में फर्जी आईडी व परिचय पत्र लेकर निकल पडते हैं। और गांव गांव राशन डीलरों व मान्टेसरी स्कूलों व झोलाछाप डाक्टरों के यहां पहुंच कर रौब तो गालिब करते ही हैं। साथ ही अपने को चैनल व अखबार का प्रतिनिध बताकर बेबजह लोगों को परेशान करके रुपये ठगने का काम करते हैं। बीते दिबस कस्बा छिबरामऊ में एक क्लीनिक का ऐसा बाक्या सुनने में आया है, जहां कि वह स्वतंत्रता दिवस का विज्ञापन के लिए पहुंचे जब संचालक ने पहचानने से इंकार किया तो रुपये मांगने लगे जब बिल्कुल ही मना कर दिया तो पैट्रौल के लिए रुपये मांगने लगा। और जब संचालक ने पुलिस में सूचना देने की बात कही तो वह रफूचक्कर हो गया।

इसके अलावा इस समय इस कदर के फर्जी पत्रकार गाडियों पर लिखाये घूम रहे हैं। जो कि पुलिस चैकिंग में भी अपना रौब गालिब कर लोगों को पत्रकार होना पुलिस के सामने दिखाने का काम करते हैं। जब कि सूचना विभाग में कहीं इनका नामो निशान नहीं है। और न ही इनका चैनल और अखबार दर्ज है। और न ही धरातल पर कुछ दिखाई दे रहा है।कृपया, सूचना विभाग एवं सभी पत्रकार बन्धु एवं पुलिस प्रशाशन ऐसे फर्जी पत्रकारों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही में मदद करें।

रिपोर्ट- शिवम गुप्ता

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY