राजनाथ सिंह और बृजेश पाठक ने किया मेरे खिलाफ षड्यंत्र : कृपाशंकर

1
1449

उन्नाव : यूपी में जहाँ इलेक्शन की शुरुआत हो चुकी है सभी पार्टियां अपना अपना दम भर रही है।वही नामांकन की प्रक्रिया भी जोरो से चल रही है। जी हां उन्नाव में तीसरे चरण के मतदान के लिए राजनितिक पार्टी के प्रत्यासी अपना अपना नामांकन कराने उन्नाव कलेक्ट्रेट पहुँच रहे है। जिसमे आज सपा बसपा और बीजेपी के प्रत्यासियो ने अपना नामांकन कराया। वहीँ निर्दलीय प्रत्यासी कृपा शंकर सिंह जो की भाजपा से पूर्व विधायक रहे और आज उन्होंने बीजेपी से अपना टिकट कटने के आरोप गृहमंत्री राजनाथ सिंह और ब्रजेश पाठक पर लगाया। जिसके बाद उन्होंने दल बदलु नेताओ को भी टिकट देने का आरोप लगाया है।

कृपाशंकर ने कहा पार्टी ने संघ ने सर्वे कराये बीजेपी ने सर्वे कराये दूसरे प्रदेश से सर्वे हुए और सारे सर्वे में मेरा नाम अव्वल आया था पूरी तरह से षडयंत्र के तहत दूसरी पार्टी के लोगो से साजिश करके जिस तरह से पिछले बार विधान सभा के चुनाव में 2012 में मेंरी टिकट कटवाई गयी थी |श्री ब्रजेश पाठक ने 2012 में षडयंत्र के तहत मेरी टिकट कटवाई थी अब वही ब्रजेश पाठक आज भारतीय जनता पार्टी में आ गए है और उनके खडयंत्र के आधार पर मुझको राजनीत से बगैर लडे ही दूर रखने का खडयंत्र किया गया है |उन्नाव जिला मै देख रहा हूँ उन्नाव में हर विधान सभा में लगभग एक एक दर्जन प्रत्याशी काम कर रहे थे जो प्रत्यासी काम कर रहे थे उनमे से किसी को टिकट नहीं दिया गया है कुलदीप सिंह सेंगर को बांगरमऊ में दिया गया है वो एक दिन पहले उन्होंने भारतीय जनता पार्टी ज्वाइन की और बांगरमऊ से उन्हें टिकट दिया गया ह्रदयनारायण दीक्षित ने कभी भगवंत नगर में काम नहीं किया उनको टिकट दिया गया है और सबसे बड़ी दुर्भाग्य की बात है जो स्थानीय कार्यकर्त्ता चुनाव अपनी विधान सभा का लड़ना चाहता था किसी भी स्थानीय कार्यकर्त्ता को टिकट ही नहीं दिया गया सब आयतित लोगो को टिकट दिया गया है ऐसे विदेशी लोग जो आये थे दूसरी दूसरी जगह से आये थे अब मै दिल्ली नहीं गया इसलिए मैंने अपनी आख से नहीं देखा लेकिन मुझे जिस खडयंत्र की भनक मुझे है वो मै जानता हूँ इसमें वो भी शामिल है |

रिपोर्ट – धर्मेन्द्र शर्मा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

1 COMMENT

  1. जहाँ भारतीय जनता पार्टी लोकसभा चुनाव में मोदी के नाम पर पूर्ण बहुमत से सत्ता में आई उस पार्टी में अब मोदी हटाओ अभियान चलाया जा रहा है नहीं तो बिहार में चुनाव के समय संघ प्रमुख मोहन भागवत जी ने तथा अब जब पाँच राज्यों में चुनाव होने वाले हैं तब फिर एक बार संघ की तरफ से आरछण जैसे संवेदनशील मुद्दे पर बयान बाजी नहीं करते, और टिकट वितरण में स्थानीय लोगों की बजाए दल बदल कर आये लोगों को टिकट देना

LEAVE A REPLY