*”पत्रकार के खिलाफ “हत्या की साजिश” या हादसा*

0
101

accident
बिलासपुर : आज सुबह फिर एक हादसा टला हमारे साथी पत्रकार राजेश माखीजा की मारुती Ritz कार जो कि पत्रकार नीरज माखीजा चला रहे थे दुर्घटनाग्रस्त हो गई और नीरज माखीजा बाल बाल बचे ।

पत्रकारों के साथ आये दिन हो रहे हादसों के मद्देनजर , इस घटना को समस्त पत्रकार जगत किसी “साजिश”के तहत देख रहा है। ज्ञात हो कि पत्रकार राजेश माखीजा ने भू माफियाओ के कई घोटालो के राज-फाश करने की बात कही थी, उसमें से लिगियाडीह के भू माफिया नवल शर्मा के खिलाफ खाते से ज्यादा ज़मीन बिक्री की शिकायत की गई थी । जाँच सही पाई गई व उसके खिलाफ भादवि की धारा 420,120 बी,467,468,471 ,के तहत अपराध कायम किया गया है ।

आज की दुर्घटना कही सोची समझी साजिश तो नही, कही पत्रकार राजेश माखीजा, नीरज माखीजा को रास्ते से हटाने की योजना तो नहीं । अपराध पंजीबद्ध होने के बाद भी उसकी गिरफ्तारी ना होना उसका खुलेआम पुलिस की नाक के नीचे ही रहकर किसी साजिश को अंजाम तो नहीं दिया जा रहा । इस तरह पत्रकारों को हमेशा ही जान का खतरा बना रहेगा, प्रशासन आखिर मौन क्यों है ।

जानकारी के अनुसार पुलिस रिकार्ड में नीरज माखीजा को कबीर शर्मा द्वारा उसकी पत्रकारिता को देख लेने तथा जान से मारने की धमकी का मामला भी पंजीबद्ध है । दोनों ही मामले पंजीबद्ध होने के बाद भी गिरफ्तारी ना होना “साजिश” की बू आ रही है । अगर इन मामलो में तत्काल दण्डनात्मक कार्यवाही नही होती है तो समस्त पत्रकार जगत उग्र आंदोलन करने को बाध्य होगा । जिसकी सारी जिम्मेदारी पुलिस प्रशासन की होगी ।

रिपोर्ट–हरदीप छाबडा

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY