कैराना में हिन्दुओं के पलायन पर खुद है पीएम मोदी की नजर, गृहमन्त्रालय ने यूपी सरकार से माँगा जवाब

0
5602

बहराइच- केंद्रीय मंत्री श्री पद नाइक ने यहाँ बताया है कि कैराना में हिन्दुओं के पलायन पर खुद प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी की पैनी नजर अभी भी बनी हुई है | वे ब्यक्तिगत तौर पर इस मामले को देख रहे है | उन्होंने यह भी बताया है कि हाल ही में संभव है कि केंद्र सरकार की तरफ से तीन केंद्रीय मंत्रियों का एक दल कैराना का दौरा करेगा और वहां की स्थित कि समीक्षा कर अपनी रिपोर्ट प्रधानमंत्री को सौंपेगा |

गृहमंत्रालय ने यूपी सरकार से मांगी विस्तृत रिपोर्ट –
सूत्रों के हवाले से प्राप्त खबर के आधार पर बताया जा रहा है केंद्र सरकार के गृहमंत्रालय ने यूपी सरकार को पत्र लिखकर हिन्दुओं के कथित तौर पर कैराना से पलायन करने के मामले पर विस्तृत रिपोर्ट की मांग की है | गृहमंत्रालय ने यूपी सरकार को पत्र लिखकर कहा है कि कैराना के सच का सत्यापन होना चाहिए और इस मामले पर एक विस्तृत रिपोर्ट जल्द से जल्द केंद्र सरकार को सौंपी जानी चाहिए |

सूत्रों ने बताया है कि केंद्र सरकार ने 2-3 पहले ही यूपी की अखिलेश सरकार को पत्र भेजकर जवाब की मांग की है लेकिन अभी तक इस मामले में यूपी सरकार की तरफ कोई भी जवाब नहीं आया है | बता दें कि गृहमंत्री राज्यमंत्री श्री किरण रिजेजू ने रविवार को कहा था कि अगर लोगों को अपने ही देश में घर छोड़ने के लिए मजबूर किया जा रहा है तो यह बेहद दुर्भाग्य पूर्ण है |

बीजेपी सांसद हुकुम सिंह ने किया था खुलासा-
ज्ञात हो कि हाल ही में बीजेपी के सांसद हुकुम सिंघ ने एक लिस्ट जारी करते हुए यह दावा किया था कि कैराना में एक समुदाय के लोग हिन्दुओं पर अत्याचार कर रहे है जिसके कारण से पिछले कुछ सालों में बड़ी संख्या में हिन्दुओं ने कैराना को छोड़ दिया है |

बीजेपी सांसद हुकुम सिंह के इस बयान के बाद यह मामला सोशल मीडिया और मीडिया में छा गया था | बीजेपी सांसद ने यह भी कहा था कि उन्होंने उक्त मामले में गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह को सूचित कर दिया है जिसके बाद राजनाथ सिंह ने खुद यह कहा है कि वे स्वयं जून के आखिरी सप्ताह में कैराना का दौरा करेंगे और इस मामले पर संज्ञान लेंगे |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here