बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में बोले प्रधानमंत्री मोदी

0
258

बनारस- आज सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी (BHU)दीक्षांत समारोह में शामिल हुए। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं पहले भी बहुत सारे दीक्षांत समारोह में जा चुका है लेकिन यहां आना खास मौका है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कहा कि ये दीक्षांत समारोह है उन्होंने यह भी कहा है कि लेकिन हमें यह कभी भी मानना चाहिए कि ये शिक्षांत समारोह है। दीक्षांत समारोह के दौरान भाषण देते हुए प्रधानमंत्री ने यह भी कहा कि हमारे अंदर का विद्यार्थी हमेशा जीवित रहना चाहिए।

   इसे भी पढ़ें – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दुनिया के 10 वें सबसे सम्मानित ब्यक्ति –WEF

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को काशी हिन्दू विश्वविद्यालय (BHU) के दीक्षांत समारोह के दौरान भाषण देते हुए विश्वविद्यालय के संस्थापक महामना मदन मोहन मालवीय की जमकर तारीफ़ की। पीएम ने अपने भाषण के दौरान महामना मदन मोहन मालवीय की तारीफ़ करते हुए कहा है कि महामना देश में ऐसे लोगों को तैयार करना चाहते थे जो भारतवर्ष की महान परंपरा को आगे बढ़ा सकें उन्होंने यह भी कहा कि जो काम महामना मदनमोहन मालवीय ने बनारस में किया था वही काम उनके तक़रीबन 15-16 वर्ष बाद गुजरात में महात्मा गांधी ने गुजरात विद्यापीठ की स्थापना करके किया था I प्रधानमंत्री ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा है कि दोनों ही महामना मदनमोहन मालवीय और महात्मा गांधी देश को चलाने वाले युवाओं को तैयार करना चाहते थे I

उन्होंने कहा है कि, “आज हम देख रहे है कि महामना ने जिस बीज को कभी बोया था आज उसे अनगिनत महापुरुषों ने पालने में आगे ले जाने अपना पूरा का पूरा जीवन समर्पित कर दिया है I प्रधानमंत्री मोदी ने अपने भाषण के दौरान कहा है कि इस महान विश्वविद्यालय को यहाँ तक लाने में जिन-जिन महापुरुषों का योगदान है मै आज उन सभी को नमन करता हूँ I

इसे भी पढ़ें – प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को 25 बच्चों को वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया

विद्यार्थी सीना तान कर कहते है कि हम BHU से हैं –
प्रधानमंत्री मोदी ने भाषण देते हुए कहा है कि इस एक शताब्दी में यहाँ से लाखो युवक और युवतियों ने शिक्षा प्राप्त की है I यह विद्यार्थी जहाँ भी गए है उन्होंने हमेशा अपना झंडा बुलंद किया है I यहाँ से पढ़े हुए बहुत से लोगों में से कोई डाक्टर बना तो कोई इंजीनियर, कोई वैज्ञानिक बना तो कोई प्रोफ़ेसर लेकिन उसने जब कभी भी अपना परिचय किसी से करवाया है तो उसने सीना तान करके यह कहा है कि वह BHU का विद्यार्थी है I प्रधानमंत्री ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा है कि BHU का हर एक विद्यार्थी जहाँ भी जाता है बड़े गर्व से BHU का नाम लेता है और उसका गौरवगान करता है लेकिन कभी-कभी सवाल उठता है कि क्या भारत के सवा सौ करोड़ लोगों के मन में भी बीएचयू के प्रति वही श्रद्धा भाव है। उन्होंने कहा कि आखिर वो कौन सी बाधा है जिसने इतनी महान परंपरा को जन-जन तक पहुचाने में संकोच किया है  I

सुनें प्रधानमंत्री मोदी का पूरा भाषण –

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY