GST बिल पर चर्चा से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने सोनिया और मनमोहन सिंह को दिया चाय का न्यौता

0
212

दिल्ली- बीते गुरूवार से संसद का शीतकालीन सत्र प्रारंभ हो चुका है अब यह सत्र जिसकी शुरुआत कल यानि 26 दिसंबर से हुई है वह 27 दिसंबर 2015 तक चलेगा I इस सत्र के दौरान सरकार का पूरा प्रयास होगा कि जो बिल अभी तक संसद में बचे हुए है और पिछले सत्र में पास नहीं हो सकें उन्हें कैसे भी करके पास करवाया जाय I

प्राप्त ख़बरों के अनुसार बताया जा रहा है कि आज प्रधानमंत्री श्री मोदी ने इन्ही पेंडिग पड़े बिलों में से एक GST के ऊपर बातचीत करने के लिए कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री श्री मनमोहन सिंह को अपने घर चाय पर बुलाया है I मीडिया में आई ख़बरों की मानें तो आज शाम तक इन तीनों बड़े नेताओं की मुलाकात संभव है I

आज भी संसद के भीतर होगी संविधान पर चर्चा –

आपको ज्ञात ही होगा कि सरकार आजकल संविधान दिवस मना रही है I जिसके चलते कल पूरा दिन संसद के भीतर संविधान पर चर्चा हुई जिसकी शुरुआत लोकसभा के भीतर माननीय गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह के द्वारा किया गया तथा राज्यसभा में इसकी शुरुआत आज केंद्रीय मंत्री और राज्यसभा सांसद श्री अरुण जेटली ने किया I

असहिष्णुता के मामले पर भी बोले गृहमंत्री तो सोनिया ने किया पलटवार –

गृहमंत्री श्री राजनाथ सिंह लोकसभा में चर्चा को प्रारंभ करने के साथ ही सबसे पहले संविधान निर्माताओं को धन्यवाद कहा और उसके बाद में उन्होंने कहा कि भारत के संविधान निर्माता डाक्टर भीमराव अम्बेडकर वास्तव राष्ट्रऋषि थे I साथ गृहमंत्री ने अपने बयान में कहा है कि बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर जीवन पर्यंत देश में रहकर अपमान का सामना करते रहे लेकिन उन्होंने कभी भी देश छोड़कर बाहर कहीं जाने की बात नहीं की I बल्कि उन्होंने कहा था कि मैं इसी देश में रहूँगा और जीवन पर्यंत इसके ढाँचे को मजबूत करने के लिए अपना योगदान देता रहूँगा I

गृहमंत्री के बयान के बाद संसद में कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गाँधी ने पलटवार करते हुए बाबा साहब के द्वारा लिखी गयी लाइनों को ही दोहरा दिया और कहा कि, “संविधान को लागू करने वाले ही यदि गलत हो तो अच्छे से अच्छा संविधान भी गलत हो जाता है I

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

2 × five =