सूखे के हालातों का जायजा लेने के लिए प्रधानमंत्री ने आज यू.पी. के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से और महाराष्ट्र के सीएम से की मुलाकात

0
405

दिल्ली– देश के कुछ राज्य इस बार पड़ रहे भीषण सूखे की चपेट में आ गए है | जिनमें उत्तरप्रदेश और महाराष्ट्र ऐसे राज्य है जहां पर लोग अपने गाँव के गाँव छोड़कर इस समय पलायन करने पर मजबूर हो रहे है | प्रधानमंत्री श्री मोदी ने आज हालातों का जायजा लेने के लिए देश के तीन सर्वाधिक सूखा ग्रसित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से मुलाकात की है |

यू.पी. के सीएम अखिलेश यादव ने राज्य में सूखा से निपटने के लिए मांगे 10,600 करोंड रूपये –

The Chief Minister of Uttar Pradesh, Shri Akhilesh Yadav meets the Prime Minister, Shri Narendra Modi to discuss drought situation, in New Delhi on May 07, 2016.
The Chief Minister of Uttar Pradesh, Shri Akhilesh Yadav meets the Prime Minister, Shri Narendra Modi to discuss drought situation, in New Delhi on May 07, 2016.

आज मुख्यमंत्रियों के साथ प्रधानमंत्री श्री मोदी की मीटिंग में सबसे पहले उत्तर परेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने प्रधानमंत्री श्री मोदी से मुलाकात की है | प्रधानमंत्री श्री मोदी के साथ हुई इस बैठक में केंद्रीय कृषि मंत्री श्री राधा मोहन सिंह के साथ साथ पीएम्ओ कार्यालय के राज्यमंत्री डाक्टर श्री जितेन्द्र सिंह भी मौजूद थे | यू.पी. के सीएम अखिलेश यादव ने आज प्रधानमंत्री से यू.पी. ब्याप्त सूखे से निपटने के लिए 10,600 करोंड रूपये की मांग रखी है | प्रधानमंत्री से मिलने के बाद बाहर निकले अखिलेश यादव ने कहा है कि केंद्र सरकार की तरफ से मिलने वाली मदद से बुंदेलखंड के लोगों को उनका हक अवश्य मिलेगा |

पानी है पहुंचाने के सामान नहीं है –
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने यहाँ भी पत्रकारों से बात करते हुए इस बात से मानने से साफ इनकार कर दिया है कि यूपी में पानी की किसी भी प्रकार कि समस्या है उन्होंने यहाँ तक कि बुंदेलखंड इलाके में भी पानी की समस्या को मानने से मना कर दिया | हालाँकि मुख्यमंत्री ने यह माना है कि बुंदेलखंड में लोगों को सूखा का सामना करना पड़ रहा है वहां पानी कि थोड़ी दिक्कत है लेकिन उन्होंने साथ के साथ यह भी कहा है कि बुंदेलखंड के जलाशयों में जल प्रचुर मात्रा में है | हमें बस आवश्यकता है उस पानी को टैंकरों के माध्यम से लोगों तक पहुंचाने की |

सूबे के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कहा है कि, वहां जो पेयजल की समस्या है उसकी आपूर्ति हम टैंकरों से जल पहुंचा कर करने का प्रयास कर रहे है लेकिन राज्य सरकार के पास पर्याप्त मात्रा में टैंकर उपलब्ध नहीं है | साथ ही मुख्यमंत्री ने यह भी कहा है कि उन्होंने इस बार गेंहू की फसल के समय पर हुए भीषण ओला वृष्टि से हुए नुकसान के बारे में भी प्रधानमंत्री श्री मोदी को जानकारी दी है |

उधर जल संसाधन विकास मंत्री उमा भारती ने कहा है कि बुंदेलखंड में बिलकुल पेयजल की समस्या है लेकिन इस समस्या को केंद्र सरकार के साथ मिलकर निपटाया जा सकता है, उन्होंने आशा जताई है कि प्रदेश सरकार इस मामले पर पूरा सहयोग करेगी जिससे राज्य में सूखे की स्थित से निपटा जा सके |

महाराष्ट्र के सीएम भी मिले पीएम मोदी से –

The Prime Minister, Shri Narendra Modi reviews drought situation at a high level meeting the Chief Minister of Maharashtra, Shri Devendra Fadnavis, in New Delhi on May 07, 2016.
The Prime Minister, Shri Narendra Modi reviews drought situation at a high level meeting the Chief Minister of Maharashtra, Shri Devendra Fadnavis, in New Delhi on May 07, 2016.

उधर अखिलेश यादव के बाद महाराष्ट्र के सीएम् देवेंद्र फड़नवीस ने भी प्रधानमंत्री से मुलाकात की है | बता दें कि महाराष्ट्र के कई जिले भी भीषण सूखे के प्रकोप को झेल रहे है | मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस ने भी राज्य के हालातों का विवरण देते हुए प्रधानमंत्री से मदद की मांग रखी है | सूत्रों के हवाले से प्राप्त खबर के आधार पर बताया जा रहा है कि देवेंद्र फड़नवीस ने सूखे से प्रभावित जिलों के लिए प्रधानमंत्री से 2000 करोंड तथा सिंचाई के प्रोजेक्ट के 7000 करोंड रूपये की मांग रखी है | वही मुख्यमंत्री ने 4000 करोंड रूपये अतिरक्त मदद के तौर पर प्रधानमंत्री श्री मोदी से मांगे है |

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here