यूपी के कन्नौज में चुनावी रैली को संबोधित करने पहुंचे पीएम मोदी, सपा बसपा पर जमकर बरसे

0
211

modi in kannauj
कन्नौज : कन्नौज में भारतीय जनता पार्टी की चुनावी रैली को संबोधित करते हुए आज प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के दिल में छुपी हुयी एक ज़बरदस्त कसक उजागर हुयी | प्रधान मंत्री ने अपने एक ख़ास अंदाज़ में कन्नौज की जनता से कहा कि जब पूरे प्रदेश ने उन्हें जिताया उस वक़्त कन्नौज की जनता ने उन्हें जीत नहीं दिलाई | प्रधान मंत्री समाजवादी पार्टी के गढ़ में यह सन्देश बड़ी ही खूबसूरती से दे गए कि इस चुनाव में वह कन्नौज की जनता से 2012 के चुनाव का प्रायिश्चित चाहते हैं | प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में अगर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को निशाना बनाया तो वह बीएसपी सुप्रीमो मायावती पर भी अपने ख़ास अंदाज़ में बरसते नज़र आये | उन्होंने कहा यह उत्तर प्रदेश का पहला चुनाव है जिसे त्रिपदीय कहा जा सकता है | उन्होंने देश से भ्रष्टाचार को उखाड़ फेकने के अपने संकल्प को भी दोहराया |

सपा के गढ़ कन्नौज में परिवर्तन संकल्प महारैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि इतना प्यार 2014 में दे दिया होता तो कितना अच्छा होता। आपने आंख की शर्म के कारण जिन पर आपने कृपा की वह एक कुनबा टूट गया, लेकिन मैं आपसे वादा करता हूं अबकी बार आपके प्यार को विकास के रूप में ब्याज समेत लौटाऊंगा। हिन्दुस्तान के हर कोनों में सुंगध फैलाने वाले कन्नौज से अपनी खुशी बांटने आया हूं। सवा सौ करोड़ देश वासियों से खुशी बांटना चाहता हूं।

भारत सरकार गरीबों का पेट भरती है

क्या सरकार अमीरों, धन्नासेठों, कुनबों के लिए होती है। नहीं सरकार गरीबों, महिलाओं, शोषितों, वंचितों और पीड़ितों के लिए होती है। यूपी में गरीबों की थाली में जब गरीब खाना खाता है उस वक़्त 3 रुपया गरीब लगाता है तो भारत सरकार 27 रुपए भारत सरकार लगाकर उसका पेट भरती है। यूपी की सरकार गरीब विरोधी है। भारत सरकार ने अन्न सुरक्षा के तहत यूपी सरकार को पैसे देने के लिए कहा है। गरीबों की सूची बनाने के लिए कहा, लेकिन अभी तक सूची नहीं बनी। मुलायम, अखिलेश और उनकी श्रीमती जी बताएं कि अभी तक आप गरीबों की सूची क्यों नहीं दे पाए ? भारत सरकार ने 750 करोड़ रुपए गरीबों के लिए निकाल के रखे हैं, यूपी सरकार को गरीबों के रुपए लेने में रुचि नहीं। जो कुनबे के साथ जुड़ा हो वही सपा को अच्छा लगता है। गरीबों को मरने देंगे लेकिन पैसा नहीं लेंगे। सपा गरीबों की दुश्मन है और सो रही है। गरीबों को पैसे इसलिए नहीं ले रहे क्योंकि उन्हें बिचौलिए नहीं मिल रहे हैं।

अब गरीबों के हृदय का सस्ता इलाज होगा

हृदय की बीमारी अमीर को ही नहीं गरीब को भी होती है। गरीब इसका इलाज नहीं करा पता था। अभी तक एंजियोप्लास्टी में लगने वाला स्टैंड लगवाने में 45 हजार रुपए लगते थे। विशिष्ट स्टैंड लगवाने में सवा लाख रुपए खर्च होते थे। इसमें रक्त के साथ दवा भी जाती है। केंद्र सरकार ने अध्ययन किया इसके बाद इस स्टैंड को ड्रग कंट्रोल में डाल दिया। नतीजन 45 हजार रुपए वाला स्टैंड अब 8 हजार रुपए, सवा लाख वाला स्टैंड 30 हजार रुपए का मिलेगा

रिपोर्ट – सुरजीत सिंह

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY