नवाज ने फिर से अलापा कश्मीर का राग, कश्मीरी अलगाववादी आसिया अंद्राबी को चिट्ठी लिख कहा शुक्रिया

0
322

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री जो अभी कुछ दिन पहले तक भारत के साथ मित्रता का हाथ बढाने का ढोंग कर रहे थे आज उन्होंने एक बार फिर कश्मीर का राग अलाप कर और कश्मीरी अलगाववादी महिला नेता आसिया अंद्राबी को चिट्ठी लिख अपना कश्मीर प्रेम और भारत के प्रति अपना छल साफ़ कर दिया है I

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कश्मीरी अलगाववादी महिला नेता आसिया अंद्राबी को एक चिट्ठी लिख कर कहा है कि पाकिस्तान कश्मीर के मुद्दे को 1947 में हुए भारतीय उपमहाद्वीप के बटवारे के नियमों के तहत ही देखता है I

अलगाववादी नेता को धन्यवाद देते हुए नवाज शरीफ ने कहा है कि मैं कश्मीर और पाकिस्तान के प्रति आपके विचारों की क़द्र और ह्रदय से इज्ज़त करता हूँ और मेरे तथा पाकिस्तान के ऊपर भरोषा करने के लिए मैं आपका शुक्रिया अदा करता हूँ I आसिया को धन्यवाद देते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री अपने पत्र में आगे लिखते है कि अल्लाह मुझे शक्ति दे जिससे मैं आपकी अपेक्षाओं पर खरा उतर सकूं जो अपेक्षाएं आपने मुझसे और इस्लामिक लोकतंत्र पाकिस्तान से कर रखी है I आपने कश्मीर को लेकर पाकिस्तान के पक्ष में अपना जिस तरह विश्वास कायम किया है उससे मुझे अत्यंत संतुष्टि और प्रशन्नता का अनुभव हुआ है I

पाकिस्तान की नजर में कश्मीर को लेकर कोई भी सीमा विवाद नहीं है –

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ ने कहा है कि पाकिस्तान कश्मीर को किसी भी प्रकार से भौगोलिक सीमा विवाद के रूप में नहीं देखता है I नवाज शरीफ ने भारत और पाकिस्तान के बीच हुए 1947 में बंटवारें के ऊपर ऊँगली उठाते हुए कहा है कि यह विवाद 1947 में हुए दोनों देशों के बीक अधूरे विभाजन की वजह से पनपा है I नवाज ने अपने पत्र में कहा है कि विभाजन के प्रदेश की जनता को अपना मुल्क चुनने की पूरी आज़ादी दी गयी थी और यह बात पूरी दुनिया को पता है I

भारत के रवैये पर नाराजगी और धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने कहा है कि यदि भारत अब इस प्रस्ताव से मुकर जाता है तो इसका केवल यही मतलब होगा कि भारत पूरी दुनिया के सामने किया हुआ अपना वादा भूल गया है I

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here