राह में पुलिस चौकी व थाना, फिर भी सेर पर रोज गुजरते हैं सवाव सेर

0
173


रायबरेली (ब्यूरो) सलोन जायस नैशनल हाइवे रोड बनी ओवर लोड ट्रैको की सेफ ज़ोन बन चुका है | विदित हो की शासन ने ओवर लोड वाहनों पर पूरी तरह रोक लगा दी है फिर भी शासन की मंशा के विपरीत ओवर लोड की समस्या कम नहीं हो रही है।रात 8 बजे के बाद इस रोड पे बहुत सारे ओवर लोड ट्रक तेज़ गति से चलते हुए दिख जायेंगे। इसके अलावा सलोन जायस रोड पे कई सारे छोटे छोटे कसबे जैसे सलोन, परशदेपुर, छतोह, नसीराबाद आदि पड़ते है इन जगहों पे एक भी ब्रेकर नहीं बना है और गाड़ियों की स्पीड कम होने का नाम नहीं ले रहीं हैं।जिससे आये दिन कोई न कोई हादसा होता रहता है जिससे राहगीरों को असमय मौत के आग़ोश में जाना पड़ता है।

जानकारी करने पर लोगो ने बताया कि कुछ समय पहले परशदेपुर में एक्सीडेंट होने से एक बच्ची की मौत हो गई थी तब अधिकारियो ने मटरवा चौराहा, अंसार चौक, साकेत नगर चौरहा, पर ब्रेकर बनवाने का आश्वासन दिया था। लेकिन वो आज तक नहीं बना। सारे आदेस ठंडे बस्ते में जा चुके हैं | पुलिस-प्रशासन की नाक के नीचे कोढ़ में खाज का काम कर रहे हैं ओवरलोड वाहन गिट्टी व अन्य निर्माण सामग्री भरकर रोजाना यहां से गुजर रहे हैं। इन ओवरलोड वाहनों ने पहले से ही घटिया निर्माण सामग्री के चलते उधड़ चुकी सड़क को मृत: प्राय कर दिया है |

इतना सब होने के बावजूद और पूरे रास्ते में पुलिस थाना और चौकी होने पर भी कार्रवाई नहीं की जाती है, जिससे ओवरलोड वाहन धड़ल्ले से बिना किसी डर के सड़क का सीना चीरते हुए निकलते हैं| इस मार्ग पर प्रतिदिन 150 से ओवरलोड ट्रक गुजर रहे हैं, जिससे यह राजमार्ग किसी गांव की कच्ची सड़क में तब्दील हो रहा है अगर जल्द ही इस पर ध्यान नही दिया गया तो कोई बड़ी दुर्घटना हो सकती है

रिपोर्ट – अनुज मौर्य /शम्शी रिजवी

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY