वाराणसी-भू माफियाओं पर प्रशासन ने कसा शिकंजा

वाराणसी ब्यूरो- यूपी सरकार के आदेश के बाद भूमि माफियाओं को चिन्हित करने का काम शुरू हो गया है। जिला प्रशासन ने 49 भू-माफियाओं की लिस्ट जारी की है। इस लिस्ट में कुछ चौंकाने वाले नाम भी सामने आए हैं। जिला प्रशासन के अनुसार सनबीन ग्रुप के चेयरमैन दीपक मधोक भू-माफियाओं की सूची में पहले स्थान पर हैं। इस सूची में पूर्व बीएसपी नेता अमीरचंद पटेल का नाम भी शामिल हैं। जिला प्रशासन ने चिन्हित भू-माफियाओं के खिलाफ कड़ी कार्रवाई के संकेत दिए हैं।

सनबीम ग्रूप के कई स्कूल भी जांच के दायरे में –
जिला प्रशासन की ओर से जारी सूची के बाद हड़कंप मचा हुआ है। सबसे ज्यादे मुश्किलें दीपक मधोक की बढ़ सकती हैं। उनके स्वामित्व में सनबीम ग्रुप के कई स्कूल संचालित है। माना जा रहा है कि अगर जांच का दायरा बढ़ता है तो सनबीम ग्रुप के कुछ स्कूल कार्रवाई की जद में आ सकते हैं। इनमें कचहरी स्थित भीमनगर, लहरतारा और करसड़ा स्थित स्कूल हैं। ये तीनों स्कूल इसके पहले भी जांच के दायरे में रहे हैं। लेकिन दीपक मधोक के रुतबे के आगे जिला प्रशासन हर बार नतमस्तक हो जाता था। इस बीच योगी सरकार में उनकी एक नहीं चली। जिला प्रशासन ने ना सिर्फ उन्हें चिन्हित भू-माफियाओं की श्रेणी में शामिल किया बल्कि नंबर-1 पर रखा। जिला प्रशासन की ये कार्रवाई दीपक मधोक के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है।

जिला प्रशासन खंगाल रही भू-माफियाओं की कुंडली-
दो महीने पहले सरकार और निजी जमीन को हथियाने की शिकायतों की संख्या को देखते हुए मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने 25 अप्रैल को एएलएमटीएफ बनाने की घोषणा की थी। प्रत्येक जिले में यह टास्क फोर्स का गठन किया गया था। इसी के आधार पर ये कार्रवाई शुरू हुई। जिला प्रशासन के अनुसार चिन्हित किए गए भू-माफियाओं ने 7.76 हेक्टेयर भूमि पर कब्जा किया है। वहीं जिले में कुल 305 अतिक्रमण करने वालों की संख्या प्रकाश में आई है। इन अतिक्रमणकर्ताओं ने 25.29 हेक्टेयर भूमि पर कब्जा किया हुआ है। इसमें से 15.85 हेक्टयर भूमि को छुड़ाया गया है। जिलाधिकारी योगेश्वर राम मिश्र के अनुसार ALMTF की सूची को अपडेट करने की प्रकिया जारी है। आने वाले दिनों में भू-माफियाओं की कुछ और सूची जारी की जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here