गैंगरेप करने वाले बदमाशों की तलाश में पुलिस ने की ताबडतोड छापेमारी 

0
49
Representative

उरई/जालौन(ब्यूरो)- जालौन के सहाव नाका पर दिल दहला देने वाली गैंगरपे की वारदात का खुलासा करने के लिए पुलिस ताबडतोड छापेमारी करने में जुटी है। संदेह के आधार पर अब तक एक दर्जन से अधिक युवकों को हिरासत में भी ले लिया गया है। जिनसे लगातार पूछताछ जारी है। शनिवार की रात भी पुलिस ने कई जगहों पर दबिशें दीं और क्षेत्र के पुराने अपराधियों के बारे में भी जानकारी कीं। जो इस तरह की वारदातों में शामिल रहे हैं। मामले के खुलासे के लिए सर्विलांस टीम की भी मदद ली जा रही है। इस बारे में अपर पुलिस अधीक्षक सुभाष चंद्र शाक्य का कहना है कि पुलिस की पांचों टीमें लगातार खुलासे में लगी हैं। जल्द ही परिणाम सामने आएगा।

गौरतलब है कि गोहन थाना क्षेत्र ग्राम बडी सुरावली निवासी एक युवक राजस्थान के जयपुर में रहकर पानी-पूरी का धंधा करता है। बीते फरवरी माह में उसका विवाह हुआ था। बीते गुरूवार की रात वह अपनी पत्नी के साथ जयपुर से वापस गांव आ रहा था। जयपुर से वह रोडवेज बस से औरेया तक आया। रात तकरीबन साढे नौ बजे वह अपने गांव जाने के लिए एक पिकअप गाडी पर सवार हुआ। जिसमें पांच युवक पहले से ही सवार थे। इसके बाद कुठौंद में तीन युवक और पिकअप पर सवार हुए। जब वह जालौन के सहाव मोड पर पहुंचे तो उन्हेाने अपनी पत्नी के साथ बैठे युवक को बंधक बना लिया और उसकी पत्नी को जबरन पकडकर खेतों में ले गए। जहां पर महिला के साथ आठों दरिंदों ने बारी-बारी से दुराचार किया और बाद में उसके जेवर व 20 हजार की नकदी लूट ले गए।

शुक्रवार की सुबह जब यह मामला जालौन कोतवाली पुलिस के संज्ञान में आया तो पुलिस के होश उड गए। आनन-फानन में पीडिता को उपचार के लिए भेजा गया और अज्ञात आठ आरोपियों के खिलाफ गैंगरेप, लूट का मुकदमा दर्ज कर लिया गया। वारदात की गूंज ऊपर तक पहुंचने के कारण पूरा पुलिस महकमा हरकत में आ गया है। शनिवार को झांसी रेंज के डीआईजी शरद कुमार सचान ने भी जिले में डेरा डालकर घटनास्थल का निरीक्षण किया था और मामले के जल्द खुलासे के निर्देश दिए थे। मामला उच्च अधिकारियों के भी संज्ञान में होने के कारण पुलिस महकमा पूरी शिद्दत के साथ वारदात का खुलासा करने के  लिए जुटा है। अब तक एक दर्जन से अधिक युवकों को संदेह के आधार पर हिरासत में लिया गया है। जिनसे पूछताछ की जा रही है। ऐसे बदमाशों को भी चिन्हित करके उनकी तलाश की जा रही है तो इस तरह की वारदात को अंजाम दे सकते हैं। उनके बारे में भी पुलिस लगातार जानकारियां इकट्ठी कर रही है। सर्विलांस टीम की भी इस मामले में मदद ली जा रही है।

इस घटना के खुलासे के लिए पांच टीमों को लगाया गया है। जिसमें स्वाट टीम, उरई सीओ, जालौन सीओ, जालौन कोतवाली पुलिस, कुठौंद थाना पुलिस शामिल है। हालांकि अभी तक पुलिस को कितनी सफलता हाथ लगी और किन बिंदुओं को ध्यान में रखकर जांच की जा रही है यह पुलिस अधिकारी सार्वजनिक नही कर रहे हैं पर संभावना जताई जा रही है कि जल्द ही इस मामले में पुलिस खुलासा कर आरोपियों को जेल भेज सकती है। इस बारे में अपर पुलिस अधीक्षक सुभाष चंद्र शाक्य ने कहा कि लगातार छापेमारी का दौर जारी है। सभी टीमें खुलासे के लिए दिन-रात लगी हुई हैं। जल्द ही मामले का खुलासा कर दिया जाएगा

रिपोर्ट- अनुराग श्रीवास्तव 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here