31 जनवरी तक भी मानिकपुर पुलिस नहीं मिटवा पायी दीवारों पर लिखी वालराइटिंग , आदर्श आचार संहिता का अनुपालन कराने में अक्षम जिला प्रशासन की खुली पोल।

0
248

pratpgarh
कुंडा/कालाकॉकर (प्रतापगढ़) अपने ही हांथो अपनी पीठ थपथपाने वाली मानिकपुर पुलिस की पोल उस समय फिर खुल गई जब अखण्ड भारत की टीम को मानिकपुर इलाके में 31 जनवरी को भी दीवारों पर पार्टियों का प्रचार दिखा। अखण्ड भारत को कई ऐसे फोटो और सबूत मिले जिससे साफ़ लग रहा है कि आचार संहिता का अनुपालन कराने में जिला प्रशासन और स्थानीय पुलिस अक्षम साबित हो रही है। जिन जगहों की वाल राइटिंग की फोटो को अखण्ड भारत ने प्रकाशित किया उसको तो पुलिस ने पुतवा दिया लेकिन अन्य जगहों की वाल राइटिंग को पुनः छोड़ दिया। जिससे स्थानीय पुलिस अब सवालों के घेरे में आ गई है।

चुनाव आयोग के निर्देशो का पालन कराने में मानिकपुर पुलिस अक्षम साबित हो रही है। सरकारी इमारतों पर वाल राइटिंग को भी वह नहीं मिटवा पा रही है। जिन जगहों की फोटो मीडिया में प्रकाशित होती है ,उन्ही जगहों की वाल राइटिंग मिटवा कर अपनी पीठ अपने ही हांथो थपथपा ले रही है ।

pratapgarhहिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

मानिकपुर पुलिस की कलई उस समय खुल गई जब मानिकपुर शव दाह गृह की दीवारों पर अखण्ड भारत को वाल राइटिंग दिखी। उस खबर को अखण्ड भारत ने 30 जनवरी को प्रकाशित किया तो मानिकपुर एसओ ने खबर को देखते ही वाल राइटिंग को आनन् फानन में पुतवा दिया और तुरंत ही खबर का खंडन करते हुए लिखा कि अखण्ड भारत ने पुरानी फोटो को लेकर खबर चलाई है।

पुलिस की बातों से इतर जब अखण्ड भारत की टीम पुनः वहां पहुची तो दीवारों पर पुनः अखण्ड भारत को वाल राइटिंग दिखी। टीम ने पुनः उसको अपने कमरे में कैद कर लिया। दरअसल जिस जगह की फोटो को अखण्ड भारत ने प्रकाशित किया पुलिस ने केवल उसी जगह की पुताई करवाई और उसी जगह की फोटो को खींचकर पुलिसिया पैतरा दिखाते हुए खबर का खंडन कर दियाऔर अन्य वाल राइटिंग को छोड़ दिया। मानिकपुर पुलिस पुलिसिया हथकंडे अपनाकर जिला प्रशासन और चुनाव आयोग की आँखों में धूल झोंक रहा है।

रिपोर्ट विश्वदीपक त्रिपाठी / पंकज मौर्या

हिंदी समाचार- से जुड़े अन्य अपडेट लगातार प्राप्त करने के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज और आप हमें ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं |

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here