प्रधान व प्रधान शिक्षक ने मिलकर शौचालय में डाला ताला

0
81

पुरवा/उन्नाव(ब्यूरो)- मोदी सरकार की अति महत्वपूर्ण योजनाओ में से एक स्वछता अभियान को जो जिम्मेदार हैं वही चूना लगा रहें है। बतौर नजीर हम असोहा की ग्राम पंचायत मझखोरिया का हवाला दें तो तस्वीर पूरी तरह साफ हो जाती है। यहां प्रधान व प्रधान शिक्षक ने मिलकर शौचालय में ताला डाल दिया है।

सनद रहे कि जनपद के कई ब्लाक खुले में शौच से मुक्त होने जा रहें है असोहा भी शौच मुक्त ब्लाकों की सूची में है। मगर यहां योजना को पलीता लगाने में कोई और नहीं जो जिम्मेदार है वही रोड़ा बने हुए है। सूत्र बतातें है कि अफसर कागजी कोरम पूरा करने में जुटे हुए है। ऐसे में खुले में शौच मुक्त अभियान का क्या होगा राम ही मालिक है।

उल्लेखनीय है कि तेज गति से चल रहा खुले में शौच मुक्त अभियान की हकीकत जांचने को अखण्ड भारत न्यूज ने असोहा के गाँवो का दौरा किया तो पाया ग्राम पंचायत मझखोरिया के प्राथमिक विद्यालय में प्रधान व प्रधान शिक्षक ने ताला बंद कर रखा है। जाहिर है स्कूल के बच्चे शौच के लिए बाहर जाते ही होंगे। स्कूल के शौचालय का ताला खोला जाय व बेलगाम प्रधान व प्रधान शिक्षक के विरुद्ध कार्यवाही हो ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से त्वरित हस्तक्षेप की मांग की है।

रिपोर्ट- मो. अहमद 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here